इस आग की कहानी जले हुए जानवरों की तस्वीरें बयान कर रही हैं

विभव देव शुक्ला

औस्ट्रेलिया के जंगलों में आग लगी हुई है और आग जंगलों की है इसलिए एक ही समय में हज़ारों लोग इसकी जद में आ चुके हैं। हालात ऐसे हो चुके हैं कि ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने इस समस्या को पूरे देश के लिए ख़तरा बताया है। जंगलों की आग अब देश के गांवों से लेकर शहरों तक पहुँच चुकी है यानी पहले जानवरों का घर तबाह हुआ और अब इन्सानों का भी हो रहा है। देश के कई बड़े इलाके बुरी तरह आग की चपेट में हैं।

50 करोड़ जानवरों ने गंवाई जान
ऑस्ट्रेलिया की सरकार के द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक लगभग 20 से 30 लोग इस आग के चलते मारे जा चुके हैं और लगभग 1500 से 2000 लोगों के घर तबाह हो चुके हैं। इसी रिपोर्ट के हिसाब से आग के चलते अभी तक लगभग 50 करोड़ जंगली जानवर भी अपनी जान गंवा चुके है। पूरे ऑस्ट्रेलिया से ऐसी तस्वीरें आईं जो वहाँ पर बने हालातों को हमारे सामने असल तस्वीर में पेश करती हैं।
ऐसी ही एक तस्वीर फिलहाल सोशल मीडिया पर आई है जिसके इर्द-गिर्द ऑस्ट्रेलिया में लगी इस आग की कहानी सुनाई जा रही है। तस्वीर में एक छोटा कंगारू है जो आगे से बचने के लिए भागने की कोशिश करता है। भागने के दौरान तार में फंस कर मर गया, फेसबुक से लेकर इन्स्टाग्राम तक अमूमन हर सोशल मीडिया पर इस तस्वीर के बारे में चर्चा हो रही है।

क्राइसिस इज़ रियल
इन्स्टाग्राम पर एक पेज है ‘वेटपॉ’ VetPaw जिसने इस छोटे कंगारू की तस्वीर साझा की। तस्वीर के साथ लिखा
This crisis is real. This little joey (baby kangroo) caught in the fence trying to escape the fires in Australia, tells the story to the world’ We need to focus on the preservation of ecosystems and the wildlife contained therein…….we may not realize it but this is pushing the human race towards extinction.’
संकट वाकई असल है, ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी आग से भाग कर बचते हुए यह छोटा कंगारू बाड़े में फंस कर मर गया। यह घटना पूरी दुनिया को कहानी बताती है। हमें असल में पर्यावरण और जंगलों को संरक्षित करने की ज़रूरत है। हम भले फिलहाल समझ नहीं पा रहे हैं पर इन तरीक़ों से हम इन्सानों की प्रजाति को खात्मे की ओर धकेल रहे हैं।

पेड़ के जानवर भी नहीं बचे
नेचर कंज़रवेशन काउंसिल के मार्क ग्राहम ने कहा एक समय पर आग इतनी ज़्यादा बढ़ चुकी थी कि पेड़ के जानवर भी नहीं बच पाए थे। जंगल इतने ज़्यादा क्षेत्र में फैले हैं और आग इतनी ज़्यादा हो गई थी कि कुछ इलाके तो अभी तक आग की चपेट में हैं। जानवरों की ऐसी हज़ारों लाशें होंगी जो हमें कभी नज़र नहीं आने वाली हैं। ऑस्ट्रेलिया में जितने लोग जंगलों के आस-पास रह रहे हैं उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती है।
वह इस डर के साए में जी रहे हैं कि कब उनका घर आग की चपेट में न आ जाए। रिपोर्ट्स के हिसाब से ऑस्ट्रेलियाई जंगलों के पूर्वी और दक्षिणी हिस्से में अभी तक आग का कहर जारी है। ऑस्ट्रेलिया के इन इलाकों में भारी संख्या में लोग और जानवर दोनों रहते हैं। हालांकि यह समय ऑस्ट्रेलिया में आग का समय माना ही जाता है लेकिन जानकारों की मानें तो इस बार जलवायु परिवर्तन के चलते हालात बदतर हैं।

Next Post

सीएए पर बाकी लोगों से ज़रा हट कर बात कही विराट कोहली ने

Sat Jan 4 , 2020
विभव देव शुक्ला देश ने बीते कुछ दिनों में नागरिकता संशोधन अधिनियम का बहुत बड़े पैमाने पर विरोध देखा। देश की आबादी का एक बड़ा हिस्सा इस अधिनियम के विरोध में सड़कों पर था लेकिन सरकार ने भी इस पर अपना मत साफ कर दिया। फिलहाल यह संसद के दोनों […]