हे राम… ! बापू, इन्हें माफ़ भी मत करना

अहमदाबाद

गुजरात में खंड-खंड कर दी गांधी की प्रतिमा, मोदी ने किया था अनावरण

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जन्म गुजरात के पोरबंदर में हुआ था। लेकिन अब इसी राज्य में राष्ट्रपिता का घोर अपमान किया गया। मामला अमरेली जिले का है, जहां महात्मा गांधी की प्रतिमा को कुछ असामाजिक तत्वों ने तोड़ दिया। इस घटना की जो तस्वीरें सामने आई हैं वह हैरान करती हैं।

चौकाने वाली बात ये भी है कि जिस राज्य में बापू का साबरमती आश्रम स्थापित है, जहां उनके पवित्र प्रतीक चिन्ह आज भी सुरक्षित रखे हुए हैं, वहां उनका अपमान हुआ।

बापू की यह प्रतिमा हरि कृष्णा सराेवर में स्थापित थी। पुलिस के अनुसार बापू की प्रतिमा को शुक्रवार देर रात कुछ शरारती तत्वों ने तोड़ दिया। मूर्ति को खंड-खंड कर दिया। तस्वीरों में बापू की प्रतिमा के सिर, पैर इधर-उधर पड़े दिख रहे हैं। यह प्रतिमा 2018 में सरोवर के एक बगीचे में स्थापित की गई थी। इसे सूरत के मशहूर हीरा व्यापारी सावजीभाई ढोलकिया के फाउंडेशन ने तैयार करवाया था और इसका अनावरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था।

बहरहाल, पुलिस दोषियों की पहचान करने की कोशिश में जुटी है। उनकी गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं। केस दर्ज कर लिया गया है। सब इंस्पेक्टर वाईपी गोहिल का कहना है कि यह करतूत सरोवर के निर्माण से दुखी लोगों की भी हो सकती है। बहरहाल, ये घटना यह सोचने को मजबूर करती है कि दुनिया की नजर में संत और महात्मा…बापू आज अपने ही देश में पराए हो गए हैं…उनके विचारों, सिद्धांतों को शायद तिलांजलि दी जा चुकी है। क्या हम माफी के लायक हैं…?

हरि कृष्णा सरोवर के बगीचे में लगी महात्मा गांधी की प्रतिमा को अराजक तत्वों ने बुरी तरह तोड़ दिया। तस्वीरों में प्रतिमा के सिर, पैर और धड़ को आसपास पड़े देखा जा सकता है।

Next Post

सचिन ने अपनी ही सरकार को घेरा, कहा- तय होनी चाहिए जिम्मेदारी

Sun Jan 5 , 2020
कोटा कोटा में जेके लोन हॉस्पिटल में एक महीने में 107 बच्चों की मौत का मामले में अब अपने ही नेता के निशाने पर सीएम अशोक गहलोत आ गए हैं। राज्य के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने शनिवार को कोटा अस्पताल का दौरा किया। साथ ही उन बच्चों के परिजनों […]