12 से 15 साल के बच्चों ने पाकिस्तान में तोड़ा हिन्दू मंदिर, अब हुए आज़ाद

विभव देव शुक्ला

जहाँ एक तरफ पूरे देश में सीएए को लेकर विरोध खत्म होने की कोई उम्मीद नहीं नज़र आ रही है। वहीं दूसरी तरफ हमारे पड़ोसी देशों में भी अल्पसंख्यक समुदाय के साथ होने वाली ज़्यादती की ख़बरें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। चूंकि नागरिकता संशोधन अधिनियम में हुए बदलाव के बाद पड़ोसी मुल्कों में रहने वाले अल्पसंख्यक समुदाय के लिए नागरिकता आसान होगी। इसी कड़ी में पाकिस्तान के सिंध प्रांत से एक ख़बर आ रही है जिसमें एक हिन्दू मंदिर को तोड़ दिया गया है।

12 से 15 साल के बच्चों ने दिया अंजाम
पाकिस्तान के सिंध राज्य में एक शहर है, थरपरकर। वहाँ 26 जनवरी को 12 से 15 साल के 4 लड़कों ने मंदिर के भीतर मौजूद मूर्तियाँ तोड़ दीं। जिसके बाद प्रेम कुमार नाम के शक्स ने मामले की शिकायत दर्ज कराई। लेकिन स्थानीय पंचायत का आदेश मिलने के बाद शनिवार के दिन प्रेम कुमार ने शिकायत वापस ली। जिसके बाद चारों लड़कों पर सारे आरोप हटा कर उन्हें छोड़ दिया गया है।
ख़बरों के मुताबिक इसकी वजह यह बताई जा रही है कि स्थानीय हिन्दू पंचायत के नेताओं ने शिकायत करने वाले से व्यक्ति से निवेदन किया। वह आरोपियों को फिलहाल के लिए माफ कर दें। इस कदम की मदद से समाज में उनके समुदाय को लेकर सकारात्मक संदेश जाएगा। घटना के आखिर में हुआ भी कुछ ऐसा ही जब प्रेम कुमार ने अपनी शिकायत वापस ले ली।

तोड़ी गई मूर्तियाँ
26 जनवरी को प्रेम कुमार द्वारा दायर की गई प्राथमिक रपट के मुताबिक 12 से 15 साल के 4 बच्चों ने सबसे पहले मंदिर को नुकसान पहुंचाया। उसके बाद मंदिर के अंदर मौजूद मूर्तियों को भी तोड़ा गया, इतना ही नहीं उन लड़कों ने अंत में मंदिर में रखे नकद रुपए भी चुरा लिए। घटना के कुछ ही समय बाद इसका ज़िक्र सोशल मीडिया पर छिड़ गया और मामला सुर्खियों में आ गया।
घटना की आलोचना भी हुई कि जिस तरह इतनी कम उम्र के बच्चों ने इस घटना को अंजाम दिया वह पाकिस्तान में रहने वाले अल्पसंख्यकों के लिए सही नहीं था। शनिवार के दिन लड़कों को स्थानीय अदालत में पेश भी होना पड़ा था, जिसके बाद अदालत का फैसला भी लड़कों के पक्ष में रहा। अदालत ने आदेश जारी किया कि प्रेम कुमार अपनी शिकायत वापस लें।

Next Post

केरल में दूसरा मामला सामने आने के बाद अजमेर के युवक में नज़र आए कोरोना वायरस के लक्षण

Sun Feb 2 , 2020
विभव देव शुक्ला कोरोना वायरस को लेकर बना डर दुनिया भर के लोगों में बरकरार है। चीन के वुहान शहर से निकले इस वायरस की चपेट में दुनिया भर के तमाम देश हैं। चीन की ही बात करें तो इस वायरस के चलते अभी तक लगभग 200 से अधिक लोग […]