जो छात्र कोरोना से प्रभावित हो सकते हैं वह मास्क लगा खुशी से झूमते नज़र आ रहे हैं

विभव देव शुक्ला

कोरोना वायरस को लेकर बना डर दुनिया भर के लोगों में बरकरार है। चीन के वुहान शहर से निकले इस वायरस की चपेट में दुनिया भर के तमाम देश हैं। अब यह वायरस भारत में भी दस्तक दे चुका है, सरकार से लेकर सेना तक सब इसके लिए तैयारी कर रहे हैं। चीन से आने वाले भारतीय नागरिकयों को खास निगरानी में रखा जा रहा है।

नज़र आ रहे हैं नाचते हुए
भारतीय सेना और भारत तिब्बत सीमा पुलिस जिस जगह पर कोरोना से प्रभावित लोगों को रख रही है वहाँ का एक वीडियो आया है। 16 सेकेंड के उस वीडियो में चीन के वुहान शहर से जो भारतीय छात्र वापस बुलाए गए हैं वह नाचते हुए नज़र आ रहे हैं। कुल मिला कर वीडियो में नाचते हुए छात्र एक लोकगीत पर नाचते हुए खुश नज़र आ रहे हैं।
इस बात में कोई दो राय नहीं है कि वह कोरोना वायरस से प्रभावित हो सकते हैं लेकिन इसके बावजूद उनका इस कदर खुश होकर नाचना सराहनीय है। किसी के लिए ऐसे हालातों में सोच पाना तक मुश्किल होता है लेकिन छात्रों का इस कदर खुश होना जीवटता की मिसाल से कम नहीं है।

रखा जाएगा आईसोलेटेड वार्ड में
चीन के वुहान शहर से देश लौटने वाले भारतीयों को अलग से सेना और भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के केंद्रों में रखा जाएगा। कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित वुहान में फंसे भारतीयों को भारत वापस लाने के लिए दिल्ली एयरपोर्ट से शुक्रवार को एक विमान वुहान पहुंचा। चीन से 366 भारतीय लाए जाएंगे, जिन्हें हरियाणा के मानेसर में सेना द्वारा तैयार एक केंद्र में रखा जाएगा। वहां कुछ दिनों तक उन्हें डॉक्टरों की निगरानी में रखा जाएगा।

पहले होगी हवाई अड्डे पर जांच
इससे पहले यात्रियों की हवाईअड्डे पर जांच की जाएगी और उसके बाद ही उन्हें मानेसर केंद्र में लाया जाएगा। अगर किसी के कोरोना वायरस से ग्रसित होने की आशंका होगी तो उसे दिल्ली कैंट स्थित अस्पताल में बने एक अलग वॉर्ड में शिफ्ट किया जाएगा। सीमा की पहरेदारी करने वाले बल आईटीबीपी ने भी कोरोना वायरस से प्रभावित संदिग्ध लोगों को बुनियादी चिकित्सा सेवा प्रदान करने के लिए दिल्ली में 600 बिस्तरों वाला पृथक केंद्र तैयार किया है।

Next Post

सरकार कौन होती है नागरिकता छीनने वाली?

Mon Feb 3 , 2020
नगर संवाददाता | इंदौर सीएए-एनआरसी के विरोध में हुई सभा में वक्ताओं का केंद्र सरकार से सवाल नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के विरोध में रविवार को महालक्ष्मी नगर मैदान पर एक बड़ी सभा हुई। इसमें शामिल वक्ताओं ने केंद्र सरकार पर लोगों की नागरिकता छीने जाने का आरोप […]