बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के नेता ने शिक्षिका को ज़मीन न देने पर बांध कर पीटा

विभव देव शुक्ला

पश्चिम बंगाल से एक ख़बर आ रही है जिसके मुताबिक एक शिक्षिका ने 5 लोगों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। शिक्षिका का कहना है कि उसकी ज़मीन पर जबर्दस्ती कब्ज़ा करके सड़क बनाने की कोशिश की जा रही है। जब उसने इस घटना का विरोध किया तो उसके साथ अमानवीय व्यवहार किया गया। घटना पश्चिम बंगाल के गंगारामपुर ज़िले की है।

शिक्षिका को बांध कर पीटा
ख़बर के मुताबिक़ गंगारामपुर ज़िले की रहने शिक्षिका के साथ स्थानीय तृणमूल कांग्रेस नेता अमल सरकार ने अपने समर्थकों के साथ मिल कर ऐसा व्यवहार किया। तृणमूल कांग्रेस के नेता और उनके समर्थकों ने शिक्षिका को बांधा, घसीटा और ने जम कर पीटा। फिलहाल मामले की जांच जारी है उसके बाद कार्यवाई होगी। फिलहाल तृणमूल कांग्रेस ने उस नेता को दल से बाहर कर दिया है।
तृणमूल कांग्रेस के नेता और उस इलाके के उपप्रधान ने स्थानीय विद्यालय में पढ़ाने वाली शिक्षिका से पंचायत चलाने के लिए सड़क निर्माण की ज़मीन मांगी थी। हैरान कर देने वाली बात यह है कि नेता उस महिला को बांध कर उसके साथ मारपीट कर रहे थे तभी उनकी बहन ने बचाव का प्रयास किया। बचाव के दौरान नेता और समर्थकों ने शिक्षिका की बहन को भी घसीटा और मारपीट की।

पहले तय हो चुकी थी ज़मीन की बात
घटना से जुड़ी एक और अहम बात यह भी है कि ज़मीन को लेकर शिक्षिका और तृणमूल कांग्रेस के नेता की पहले बात हो चुकी थी। लेकिन कुछ समय बाद नेता ने ज़्यादा ज़मीन की मांग की और तब महिला ने साफ तौर पर मना कर दिया। ज़मीन देने से मना करने पर शुरुआत में शिक्षिका और उनकी बहन को तृणमूल कांग्रेस के नेता की तरफ से धमकियाँ मिलीं। उसका कोई असर न होने के बाद शुक्रवार के दिन उनके साथ इस तरह का अमानवीय व्यवहार हुआ।

Next Post

फर्रुखाबाद में बच्चों को बंधक बनाने वाले शख्स की बेटी की देखभाल करेगी पुलिस

Mon Feb 3 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। अगर पुलिस की कहानी की डायरी पलटें तो शायद उत्तर प्रदेश पुलिस की कथाएं आपको हर दो पन्ने के बाद पढ़ने को मिल जाएगी। कुछ अच्छी तो कुछ आश्चर्य करने वाली लेकिन आज आपके सामने यूपी पुलिस की एक ऐसी भावुक करने वाली ख़बर सामने है जिसे […]