मोदी ने राहुल से क्यों कहा ‘मैं बोल 30-40 मिनट से रहा हूँ लेकिन करेंट अभी पहुँचा है’

विभव देव शुक्ला

राजनीति में बातों और बयानों का अलग असर होता है, जिससे एक झटके में लाखों लोगों पर असर पड़ता है। जो बयान नेताओं की तस्वीर बनाने से लेकर बिगाड़ते तक हैं, आम जनता जिन बयानों पर कभी मोहब्बत लुटाती है तो कभी कतराती है। बीते दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बयान दिया था जिसका चर्चा आज संसद में भी छिड़ गया। बयान ऐसा था कि उसका जवाब प्रधानमंत्री ने दिया। यानी पहले बयान सुर्खियों में रहा और अब बयान का जवाब चर्चा में है।

युवा डंडों से पीटेंगे
राहुल गांधी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव अभियान के दौरान एक जनसभा में कहा ‘मोदी जी जगह-जगह भाषण दे रहे हैं। लेकिन आगामी 6 महीने के बाद वह घर से निकल तक नहीं पाएंगे, देश के युवा उन्हें डंडों से पीटेंगे। जिससे उन्हें यह समझ आए कि बिना रोज़गार के देश का भला कभी नहीं हो सकता है।’ राहुल गांधी का यह बयान कल से ही चर्चा में था, कहीं आलोचना तो कहीं सुर्खियां, बयान के इर्द-गिर्द बहुत कुछ हुआ।

6 महीने मिले हैं तैयारी के लिए
लेकिन तमाम सुर्खियों के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने खुद उस बयान का जवाब दिया। लोकसभा में भाषण देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा ‘कल कांग्रेस के एक नेता ने कहा 6 महीने के बाद वह मुझे डंडों से पीटेंगे। हालांकि यह सच में बेहद मुश्किल काम है। 6 महीने में तैयारी भी करनी होगी, तैयारी के लिए इतना समय बहुत है। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने बयान को योगा से जोड़ते हुए कई बातें कहीं।
मोदी ने कहा मैंने फैसला किया है कि मैं इन 6 महीनों में सूर्य नमस्कार की संख्या बढ़ा दूंगा। जैसे मैंने पिछले 20 सालों में सूर्य नमस्कार की मदद से खुद को गालियाँ स्वीकारने के अनुरूप ढाल लिया है। ठीक उसी तरह मैं सूर्य नमस्कार की संख्या बढ़ा कर अपनी पीठ भी मज़बूत कर लूँगा जिससे डंडों की मार सह सकूँ। मैं इस बात के लिए शुक्रगुज़ार हूँ कि इन्होंने पहले ही ऐलान कर दिया, मेरे पास तैयारी के लिए 6 महीने हैं।

करेंट अभी पहुँचा है
प्रधानमंत्री मोदी का भाषण होते ही राहुल गांधी ने उठ कर उनके खिलाफ फिर से बोलने का प्रयास किया। चूंकि उस वक्त संसद में शोर बहुत ज़्यादा हो रहा था इसलिए उन्हें कोई सुन नहीं पाया। यह देख कर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा मैं पिछले 30-40 मिनट से बोल रहा हूँ लेकिन करेंट अभी पहुँचा है। इसके बाद उन्होंने राहुल गांधी की तरफ बैठने का इशारा किया और कहा, कुछ ट्यूबलाइट ऐसे ही काम करती हैं। फिर प्रधानमंत्री मोदी कौशल विकास, डिजिटल अर्थव्यवस्था और तमाम मुद्दों पर बोलने लगे।

Next Post

अमेरिकी दूतावास में पांच साल की बच्ची से रेप, आरोपी कर्मचारी गिरफ़्तार

Thu Feb 6 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। दिल्ली स्थित अमेरिकी दूतावास के अंदर पांच साल की बच्ची से दुष्कर्म की घटना सामने आई है। घटना शनिवार सुबह की बताई जाती है। इस सिलसिले में आरोपी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है। बुधवार को इस घटना की पुष्टि नई दिल्ली जिले के चाणक्यपुरी […]