इस शख्स ने कोरिया से लेकर स्पेन तक फैलाया संक्रमण

लंदन

ब्रिटेन में एक व्यक्ति की जोर-शोर से तलाश की जा रही थी। यह कोई डॉन या भगोड़ा अपराधी नहीं था, बल्कि इस पर आरोप है कि इसने अनजाने में कई लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित कर दिया। अब तलाश पूरी हो चुकी है और यह शख्स इस समय लंदन के एक अस्पताल में है। पेशे से व्यवसायी स्टीव वॉल्श (53) खुद कोरोना के संक्रमण से आजाद हैं और उन्हें क्वॉरनटाइन सेंटर में रखा गया है, लेकिन अब तक वह कई देशों में यह संक्रमण फैला चुके हैं।

दरअसल, वह जनवरी में ब्रिटेन के गैस ऐनालिटिक्स फर्म सर्वोमेक्स के सेल्स कॉन्फ्रेंस में पहुंचे थे और वहीं कोरोना से संक्रमित हुए। शुरुआत में माना गया कि यहां शामिल हुए चीनी प्रतिनिधिमंडल ने यह संक्रमण फैलाया, लेकिन सर्वोमेक्स का कहना है कि उनके टेस्ट पॉजिटिव नहीं पाए गए थे। सर्वोमेक्स ने ‘सुपर स्प्रेडर’ के नाम से मशहूर हो गए वॉल्श की तस्वीर जारी की है।

संक्रमण से अनजान वाल्श ने कइयों को दिया कोरोना

सिंगापुर के आलीशान हयात होटल में 109 प्रतिनिधि मौजूद थे। वे यहां चीनी डांसर्स के परफॉर्मेंस का लुत्फ ले रहे थे, लेकिन कुछ समय बाद ही उन्हें अहसास हुआ कि वे एक वैश्विक संकट के केंद्र में आ गए हैं क्योंकि यहां से वापस मलयेशिया लौटे एक व्यक्ति में कोरोना के लक्षण पाए गए। इसके बाद इस कॉन्फ्रेंस में शामिल सभी लोगों को अलग-थलग रखने की व्यवस्था हुई, लेकिन 109 में से 94 लोग अपने देश लौट चुके थे। इससे जानलेवा कोरोना वाइरस फैलता चला गया।

Next Post

यशस्वी ने वर्ल्ड कप में किस रणनीति से पाया यश, खोला राज

Sun Feb 16 , 2020
मुंबई भारत अंडर 19 टीम को वर्ल्ड कप के फाइनल में बांग्लादेश के हाथों हार का सामना करना पड़ा और भारत का पांचवी बार खिताब जीतने का सपना टूट गया। भारत को फाइनल तक पहुंचाने में टीम के युवा ओपनर बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल की बड़ी भूमिका रही जिन्होंने हर मैच […]