तापसी उस फ़िल्म में काम करने वाली हैं जिसकी कॉपी हर डीवीडी लाइब्रेरी में मौजूद है

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। तापसी पन्नू पिछले कई दिनों से खबरों में बनी हुई हैं वो भी किसी अच्छे कारण से ही। इस बार भी तापसी को एक ऐसी फिल्म में जगह दी गयी है जिसकी कॉपी आपको भारत की हर डीवीडी लाइब्रेरी में मिल जाएगी।

तापसी के इस फिल्म का नाम ‘लूप लपेटा’ है। फिल्म में तापसी के अपोजिट ताहिर राज भसीन नजर आने वाले हैं। ‘लूप लपेटा’ जर्मन भाषा की कल्ट-क्लासिक कहे जाने वाली फिल्म ‘रन लोला रन’ की एडाप्टेशन है। ये फिल्म एक थ्रिलर-कॉमेडी होगी और इसे आकाश भाटिया डायरेक्ट करेंगे।

इस फ़िल्म के बारे में बताने के लिए तापसी ने अपने इन्स्टाग्राम अकाउंट पर लिखा है, “ओके तो एक और एनाउंसमेंट है। मैं लगातार काम करने में व्यस्त हूं या कहूं कि एक लूप में हूं। सोनी पिक्चर इंडिया और एलिप्सिस एंटरटेनमेंट की क्रेज़ी थ्रिलर-कॉमेडी, ‘लूप लपेटा’ की घोषणा करते हुए उत्साहित हूं। ‘लूप लपेटा’ एक कल्ट क्लासिक ‘रन लोला रन’ का एडप्टेशन है। निर्देशक आकाश भाटिया, मेरे सह-कलाकार ताहिर राज भसीन, एलिप्सिस एंटरटेनमेंट और सोनी के अद्भुत लोगों (तनुज, अतुल) के साथ इस अद्भुत यात्रा को लेकर काफी आशान्वित हूं। 29 जनवरी, 2021 की तारीख अपने कैलेंडर में मार्क कर लें।”

अक्सर जब भी किसी फ़िल्म के बारे में पहली बारे में बताया जाता है तो आम तौर पर उस फिल्म की पोस्टर होती है या जिस भी एक्ट्रेस/एक्टर ने पोस्ट की है उनकी फ़ोटो लेकिन तापसी ने जो पोस्टर अपने इंस्टा अकाउंट से पोस्ट किया है उसमें एक पेम्पलेट है, जिसमें किसी की तस्वीर नहीं, बस फिल्म से जुड़े लोगों की और लोगो (सोनी, एलिप्सिस) की जानकारी दी गई है।

साल 1998 में ये जर्मन फिल्म आई थी । ये हॉलीवुड नहीं बल्कि जर्मन मूवी थी। ‘रन लोला रन’ कहानी है ऐसी लड़की की जो अपने प्रेमी के 10 हजार डचमार्क्स (यूरो से पहले जर्मन की करेंसी) लेकर शहर में दौड़ती है ताकि वो कोई गलत कदम ना उठा ले। लोला को उसका बॉयफ्रेंड बताता है कि ये पैसे एक बहुत बुरे आदमी के हैं और उसके पास ये पैसे जुटाने के लिए सिर्फ 20 मिनट का समय है।

इस मूवी में दिखाया गया था कि इस एक दिक्कत से कैसे तीन कहानियां बन सकती हैं और कैसे इसका तीन तरीके से अंत हो सकता है। फिल्म में फ्रैंका पोटेंटे और मॉरित्ज ने अहम भूमिका निभाई थी। फिल्म को 2000 में बाफ्ता पुरस्कार में नॉमिनेशन भी मिला था।

Next Post

मंडला जिले के मोहन टोला गांव में मिले डायनासोर के अंडे

Wed Feb 19 , 2020
प्रकाश जायसवाल | मंडला जिले के मोहन टोला में करोड़ों वर्ष पुराने जीवाश्म मिले हैं। जीवाश्व विज्ञान में रुचि रखने वाले एक शिक्षक प्रशांत श्रीवास्तव ने प्रथम दृष्टया इन्हें डायनासोर के अंडे बताया है। नागपुर के सीनियर साइंटिस्ट धनंजय महोबे ने भी इसकी पुष्टि की है। उल्लेखनीय है कि मंडला […]