गंगा का पानी यमुना में डालकर ट्रम्प को स्वच्छ नदी दिखाएंगे

नई दिल्ली

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा से पहले आगरा में यमुना को स्वच्छ और अविरल बनाने के लिए गंगनहर से पानी देने का फैसला किया है। अमेरिकी राष्ट्रपति के दौरे आगरा को ध्यान में रखते हुए यमुना नदी की पर्यावरणीय स्थिति में सुधार के लिए मांट नहर के रास्ते 500 क्यूसेक गंगाजल मथुरा में छोड़ा गया है। यह पानी अगले तीन दिन में मथुरा और उसके 24 घण्टे बाद 21 फरवरी की दोपहर तक आगरा पहुंचेगा। कोशिश है कि गंगाजल की यह मात्रा यमुना में 24 फरवरी तक निरंतर बनी रहे। प्रशासन के इस कदम पर उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण विभाग का कहना है कि ‘यदि आगरा में यमुना नदी के प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए 500 क्यूसेक गंगाजल छोड़ा गया है तो वह निश्चित रूप से प्रभाव डालेगा। मथुरा के साथ-साथ आगरा में भी यमुना नदी में घुले ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ेगी। इतना होने पर यमुना का पानी पीने योग्य भले ही न हो पाए, परंतु उसके दुष्प्रभाव व बदबू में तो कमी होने की आशा कर सकते हैं। यमुना की स्वच्छता के लिए काम कर रहे गोपेश्वर नाथ चतुर्वेदी का कहना है, ‘इससे भले ही एक दिन के लिए सरकार की लाज बच जाए लेकिन कुछ नहीं बदलेगा।

Next Post

'नशेड़ी तोतों' से भी जूझ रहे किसान

Thu Feb 20 , 2020
ब्यूरो | मंदसौर गहरे संकट के दौर से गुजर रही अफीम की खेती, फसल बचाने के लिए कर रहे तरह-तरह के जतन प्रदेश के मालवा की खास पहचान अफीम की खेती इन दिनों गहरे संकट से गुजर रही है। पहले बारिश और ओलावृष्टि ने फसल खराब की। इसके बाद फसलों […]