अब विधवा और तलाकशुदा महिलाएं भी बन सकेंगी सरोगेट मदर

केंद्रीय कैबिनेट ने सरोगेसी रेग्युलेशन बिल को दी मंजूरी

नई दिल्ली

केंद्रीय कैबिनेट ने सेरोगेसी (रेगुलेशन) बिल 2020, को मंजूरी दे दी है। इसके जरिये किसी भी इच्छुक महिला को किराये की कोख वाली मां यानी सेरोगेट मदर बनने का अधिकार हासिल होगा। इस विधेयक के जरिये माता-पिता बनने में अक्षम भारतीय दंपतियों के अलावा विधवाओं और तलाकशुदा महिलाओं (35 से 45 आयु वर्ग) को इस कानून के तहत लाभ लेने का अवसर मिलेगा। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी दी।

भारतीय मूल के दंपतियों को ही मिलेगा अधिकार : राज्यसभा की 23 सदस्यीय सिलेक्ट कमेटी ने सरोगेसी रेग्युलेशन बिल 2019 में 15 महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि विधेयक में यह प्रस्ताव किया गया है कि केवल भारतीय मूल के दंपति ही देश में किराए की कोख को अपना सकते हैं।

Next Post

दंगे की आग में ज़िंदा जल गईं 85 साल की बूढ़ी माँ

Thu Feb 27 , 2020
विभव देव शुक्ला राजधानी दिल्ली में जारी हिंसा ने बहुत बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचाया। अभी तक हालात सामान्य करने की जद्दोजहद जारी है लेकिन इतने बड़े पैमाने पर हुए उपद्रव की सबसे बड़ी कीमत चुकाई आम लोगों ने। ऐसे आम लोग जिनका पूरी घटना से कोई लेना-देना ही नहीं […]