महाराष्ट्र में लगे पोस्टर, अवैध घुसपैठियों की जानकारी देने वाले को ईनाम देगी मनसे

विभव देव शुक्ला

राज ठाकरे अक्सर अपने बयानों को लेकर विवादों में रहते हैं या यूं कहें सुर्खियों में रहते हैं। चाहे उनके साक्षात्कार हों या भाषण, सभी में कुछ न कुछ ऐसा होता ही है जो चर्चा का मुद्दा बन जाता है। लेकिन इस बार सुर्खियों की वजह कोई बयान, भाषण या साक्षात्कार नहीं बल्कि एक पोस्टर है। आम तौर पर पोस्टर प्रचार और समर्थन के लिए लगाए जाते हैं लेकिन राज ठाकरे के पोस्टर की कहानी ही अलग है।

जानकारी देने वालों को 5 हज़ार ईनाम
महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक पोस्टर लगाया है। पोस्टर में साफ लिखा है ऐसा व्यक्ति जो भारत में अवैध रूप से रह रहे पाकिस्तानी या बांग्लादेशी नागरिक की जानकारी देगा उसे 5 हज़ार रुपए का ईनाम दिया जाएगा। इसके बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के छात्र संगठन के नेता अखिल चित्रे ने भी एक ऐलान किया है।
अखिल चित्रे ने कहा जो व्यक्ति भारत में अवैध रूप से रहने वाले बांग्लादेशी और पाकिस्तानी नागरिकों की जानकारी देगा उसे उनकी तरफ से 5,555 रुपए का ईनाम दिया जाएगा। साथ ही जानकारी देने वाले व्यक्ति की पहचान छिपा कर रखी जाएगी। पोस्टर लगने और यह ऐलान होने के बाद इसकी चर्चा ज़ोरों पर है, तमाम लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया भी दे रहे हैं।

पहले भी लग चुका है ऐसा पोस्टर
इस महीने की शुरुआत में ही महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री के नज़दीक एक पोस्टर लगाया था। पोस्टर में ऐसा लिखा था कि सरकार को सबसे पहले अपने आस-पास के मोहल्लों का ध्यान रखना चाहिए जिसमें पाकिस्तान और बांगालदेश के तमाम लोग अवैध रूप से रह रहे हैं। पोस्टर में लिखा था,
‘आदरणीय मुख्यमंत्री अगर आप अवैध घुसपैठियों को लेकर इतने ही गम्भीर हैं तो शुरुआत बांद्रा के आस-पास बने मोहल्लों से करिए जो कि घुसपैठियों से भरी पड़ी है।’

Next Post

जब प्रेग्नेंट शबाना पर हुआ हमला तो संजीव ने लिया दंगाइयों से बचाने का जिम्मा

Fri Feb 28 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। ‘भीड़ ने मुझे लाठियों से पीटा… कुछ ने मेरे पेट पर लात भी मारी।’ शबाना ने आगे बताया कि भीड़ कुछ समय के बाद रुक गई और घर में तोड़फोड़ कर चली गई। ये कहानी अभी उत्तर पूर्वी दिल्ली के हर कोने की है जहां दंगाई एक […]