इस इलाहाबादी दिव्यांग लड़के का वीडियो, फ़ोटो हो रहा वायरल

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। मोदी जी यूपी दौरे पर हैं। उनका दौरा हमेशा किसी न किसी कारणवश चर्चा में रहता ही है। इसी क्रम में सबसे पहले पीएम मोदी प्रयागराज पहुंचे और दिव्यांगों को उपकरण बाटें। इस दौरान एक तस्वीर आयी जिसने सबका दिल जीत लिया।

सोशल मीडिया में उनका ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो में पहले प्रधानमंत्री मोदी से इलेक्ट्रॉनिक उपकरण लेने के लिए एक दृष्टिबाधित युवक मंच पर आया। पीएम मोदी ने सबसे पहले उससे हाथ मिलाए और कुछ बातें की। इसके बाद पीएम मोदी ने उसको इलेक्ट्रॉनिक छड़ी दी। इसके बाद उसको मोबाइल फोन दिया गया।

युवक ने उत्सुकता से मोबाइल को कवर से बाहर किया और फिर पीएम मोदी के साथ सेल्फी लेने लगा। दृष्टिबाधित युवक जब सेल्फी लेने लगा तो पीएम मोदी ने उसकी मदद की। इस लम्हें को सभी ने अपने मोबाइल पर कैद किया। सेल्फी के बाद युवक को मंच से नीचे ले जाया गया।

दृष्टिबाधित युवक जब सेल्फी लेने लगा तो पीएम मोदी ने उसकी मदद की। इस लम्हें को सभी ने अपने मोबाइल पर कैद किया। सेल्फी के बाद युवक को मंच से नीचे ले जाया गया।

सेल्फी लेने के बाद 18 वर्षीय विवेक ने मीडिया से बातचीत में बताया, “मैं प्रतापगढ़ के कुंडा का रहने वाला हूं और यहां इलाहाबाद से पढ़ाई कर रहा हूं।”

दिव्यांगजन के स्मार्टफोन में टॉक बैक फ़ीचर पहले से ही उपलब्ध होता है। यानी प्रीलोडेड जिन्हें सुनकर फोन के विभिन्न फ़ीचर्स को अपनी आवश्यकता अनुसार उसका इस्तेमाल कर सके।

जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वरिष्ठ जन हों, दिव्यांगजन या आदिवासी हों, दलित-पीड़ित, शोषित, वंचित हों, 130 करोड़ भारतीयों के हितों की रक्षा करना, उनकी सेवा करना, हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज परेड मैदान में दिव्यांगजनों को उपकरण वितरित किए, इसके बाद उन्होंने सामाजिक अधिकारिता शिविर को संबोधित किया।

उन्होंने कहा, “दिव्यांगों पर यदि कोई अत्याचार करता है या मजाक उड़ाता है तो उससे जुड़े नियमों को भी सख्त किया गया है। दिव्यांगों की नियुक्ति के लिए विशेष अभियान चले और आरक्षण तीन फीसद से बढ़ाकर चार फीसद कर दिया गया। उच्च शिक्षा संस्थानों में दाखिले का तीन फीसदी से आरक्षण बढ़ाकर पांच फीसदी कर दिया गया है। दो लाख साथियों को स्किल ट्रेनिंग दी है। हर क्षेत्र में दिव्यांगजनों की भागीदारी जरूरी है। चाहे उद्योग हो या खेल का मैदान।”

Next Post

दक्षिणी असम के इस टीचर की एफआईआर उन्हीं के छात्रों ने करवा दी

Sat Feb 29 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। असम के कछार जिले में एक कॉलेज के गेस्ट लेक्चरर को गिरफ्तार किया गया है। इनकी गिरफ़्तारी का वारंट इनके ही छात्रों ने मिलकर निकलवाया है। दरअसल शुक्रवार 28 फरवरी की दोपहर कई छात्र गए और कॉलेज के प्रिंसपल को शिकायती लेटर दिया। एक छात्र ने कहा, […]