वो सिंगल मदर जो बेटे को पालने के लिए धावक बन गयीं

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। सिंगल मदर होना भारत में किसी चुनौती से कम नहीं है या यूं कह लीजिए किसी महिला के लिए भी ये एक बड़ा कदम होता है। वहीं देश की आर्थिक राजधानी मुंबई के नालासोपारा इलाके में रहने वाली सीमा वर्मा कई सिंगल मदर्स के लिए प्रेरणास्रोत बन गई हैं। सीमा वर्मा पिछले कई वर्षों में ढेरों पुरस्कार जीत चुकी हैं।

सीमा जब 17 साल की थीं तब उनकी शादी एक शराबी से हो गई थी। शराबी पति ने उन्हें और उनके बच्चे को 4 साल बाद ही छोड़ दिया। इसके बाद सीमा को अपने बच्चे को पालन के लिए नौकरी करनी पड़ी। यहां तक कि उन्हें नौकरानी का काम करना पड़ा।

उनकी एक मालकिन को पता था कि सीमा को खेल पसंद है। उसी मालकिन ने सीमा के दौड़ने को अपना पेशा बनाने की सलाह दी। अब उन्हें दौड़ते हुए 8 साल बीत गए हैं। इसी से उनका घर चल रहा है। 19 साल के बच्चे की मां सीमा प्रतियोगिता जीतकर इनाम की राशि से अपना खर्च चला रही हैं।

ये बात थी साल 2012 की। उस औरत की मदद से सीमा ने दौड़ना शुरू किया, मैराथन में हिस्सा लिया और जीता। वो कहती हैं, “2012 की मेरी पहली रेस के बाद रनिंग मेरे बेटे के बाद मेरा दूसरा प्यार बन गई। ये सबकुछ तब शुरू हुआ, जब एक इम्प्लॉयर (जिनके घर काम करती थीं) ने मुझे मैराथन में भाग लेने का सुझाव दिया, जिससे मैं ज्यादा पैसे जीत सकती थी। अपनी पहली ही रेस में मैं फर्स्ट आई थी, वो भी तब, जब अपने दूसरे प्रतिभागियों की तरह मेरे पास जरूरी ट्रेनिंग नहीं थी।”

सीमा पर एक डॉक्यूमेंट्री भी बनायी जा चुकी है जो नेटफ्लिक्स पर मौजूद है। इस डॉक्यूमेंट्री का नाम ‘लिमिटलेस’ है। इसमें आठ महिला रनर की कहानी दिखाई गई है। इनमें से एक सीमा भी हैं।

‘द हिंदू’ को दिए एक इंटरव्यू में सीमा कहती हैं, “मैं महीने के करीब 5000 रुपए कमा रही थी। इनमें से 2500 रुपए बेटे की हॉस्टल फीस के लिए देने पड़ते थे, पैसे कम पड़ जाते थे। इसलिए एक्स्ट्रा कमाई के लिए मैं रात में कुरियर देने का काम भी करती थी। हर डिलीवरी में मुझे 60 रुपए मिलते थे।”

हालांकि अभी सीमा ने ये नहीं बताया कि वो लगभग कितना कमा लेती हैं लेकिन कहा कि जब वह रेस जीततीं तो करीब 20 हजार रुपये उन्हें मिल जाता है। उन्होंने कहा कि इस आय से उनका खर्च चलता है। सीमा अब तक 14 रेस जीत चुकी हैं जिससे उन्हें कुल करीब 2 लाख रुपये मिला है। यह उनके घरेलू नौकरानी की कमाई से ज्यादा है।

Next Post

नीना गुप्ता ने कहा 'कभी किसी शादीशुदा शख्स के साथ रिलेशन में न आएं'

Tue Mar 3 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। आजकल सोशल मीडिया ने लोगों को थोड़ा सरल कर दिया है खासकर महिलाओं को। अब महिलाएं अपनी पर्सनल लाइफ के इंसिडेंट चाहे वो अच्छे हो या बुरे उसको लेकर मुखर हो रहीं हैं। इस श्रेणी में आम लोग से लेकर फ़िल्मी जगत की महिलाएं भी शामिल हैं। […]