सरकार के मुताबिक कोरोना वायरस को लेकर क्या हालात हैं देश में

विभव देव शुक्ला

हमारे देश में कोरोना वायरस को लेकर हालात फिलहाल गंभीर हैं। अभी तक राजधानी दिल्ली में इसके लगभग 28 मामले सामने आ चुके हैं लिहाज़ा सरकार और स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसका सामना करने के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने मीडिया वालों से बात करते हुए इस मुद्दे पर स्वास्थ्य मंत्रालय और सरकार की तैयारियों के बारे में बताया। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि असल में लोग इससे किस हद तक प्रभावित हैं।

बनाए गए हैं आइसोलेशन वार्ड
हमने दिल्ली के तमाम अस्पताल वालों को निर्देश दिए हैं कि वह अच्छी गुणवत्ता के आइसोलेशन वार्ड बनाएँ। जिससे समय रहते दिल्ली के भीतर कोरोना वायरस के ज़्यादा से ज़्यादा मामलों से निपटने में परेशानी न हो। कुछ समय पहले दिल्ली के एक व्यक्ति में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए थे।
जांच में आगे बढ़ते हुए पता चला कि उसकी वजह से उसके परिवार के 6 लोग प्रभावित हो चुके हैं जो कि आगरा में रहते हैं। उन सभी लोगों में भी कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं और फिलहाल उन्हें निगरानी में रखा गया है। सभी प्रभावित लोगों का हर सम्भव उपचार किया जाएगा।

हवाई अड्डों और बन्दरगाहों पर निगरानी
इसके बाद उन्होंने कहा अगर ईरान सरकार प्रयासों में हमारा साथ देती है तो हम वहाँ भी एक प्रयोगशाला बना सकते हैं। वहाँ पर प्रयोगशाला बनाने के बाद हमारे लिए वहाँ रहने वाले प्रभावित भारतीय नागरिकों की जांच करके उन्हें वापस लाना आसान होगा।
अभी के बाद से विदेशों से आने वाला हर हवाई जहाज और हर नागरिक वैश्विक स्तर पर निगरानी में होगा। हमने पहले ऐसे 12 देशों की सूची तैयार की थी लेकिन अब इसमें तमाम और देशों को शामिल किया गया है। देश भर में अभी तक कोरोना वायरस के कुल 28 मामले सामने आए हैं।
जिसमें से हवाई अड्डों पर लगभग 5 लाख 89 हज़ार लोगों की जांच की है, छोटे बड़े बन्दरगाहों पर 15 हज़ार लोगों की और नेपाल सीमा पर 10 लाख लोगों की जांच हो चुकी है। अंत में N95 मास्क के बढ़ते दामों पर हर्षवर्धन ने कहा अगर लोग इसका दुरुपयोग कर रहे हैं और इसकी गंभीरता नहीं समझ रहे हैं उनके खिलाफ सख्त कार्यवाई की जाएगी।

नहीं मनाएंगे होली
कोरोना वायरस के मामले बढ़ते देख गृह मंत्री अमित शाह ने भी एक ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि होली हमारे देश के लोगों के लिए एक अहम त्यौहार है लेकिन कोरोना वायरस के चलते मैं इस साल किसी भी होली मिलन समारोह का हिस्सा नहीं बनूँगा। साथ ही मैं आम लोगों से गुज़ारिश करना चाहता हूँ कि वह भी सार्वजनिक स्थानों पर इकट्ठा होने से बचें और अपना व अपने परिवार का खास ख़याल रखें।
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी कुछ ऐसा ही ऐलान किया है। उनका कहना है कि दुनिया अभी कोरोना वायरस से जूझ रही है। दुनिया के तमाम देश और चिकित्सा से जुड़े तमाम लोग इसे रोकने की पूरी कोशिश में लगे हुए हैं। इन बातों को ध्यान में रखते हुए न तो मैं इस साल होली मनाऊँगा और न ही किसी होली मिलन समारोह का हिस्सा बनूँगा।

दिल्ली सरकार भी नहीं मनाएगी होली
इसके अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि कोरोना वायरस के चलते इस साल होली नहीं मनाएंगे। दिल्ली में कोरोना वायरस की घटनाओं की निगरानी और रोकथाम के लिए एक टास्क फोर्स का गठन भी किया गया है। इस टास्क फोर्स में स्वास्थ्य मंत्रालय और इसके तहत वाले विभागों के तमाम अधिकारी शामिल होंगे।
साथ ही दिल्ली में हुई दंगे की घटनाओं के चलते भी उन्होंने होली न मनाने का फैसला लिया है। जिसमें तमाम निर्दोष लोगों ने अपनी जान तक गंवाई है। लोग परेशानी झेल रहे हैं लिहाज़ा न तो वह और न ही उनकी सरकार का कोई मंत्री इस साल होली मनाएगा।

Next Post

पीके पर मुकदमा से चर्चा में आए शाश्वत, नीतीश व राहुल के लिए किया है काम

Thu Mar 5 , 2020
पटना चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर इन दिनों मुश्किलों से घिरे हुए हैं। कंटेंट चोरी व जालसाजी के एक मुकदमे में उनपर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। पटना के जिला व सत्र न्यायधीश रुद्र प्रकाश मिश्रा ने उन्हें अग्रिम जमानत देने से इनकार करते हुए उनकी गिरफ्तारी पर भी रोक […]