इंसान से कुत्ते में पहुंचा कोरोना दुनिया में पहला मामला

बीजिंग

हांगकांग में स्वास्थ्य अधिकारियों ने की पुष्टि, 60 साल की महिला से उसके पालतू कुत्ते को हुआ कोरोना

अभी तक ये माना जा रहा था कि कोरोना वायरस मनुष्य में एक-दूसरे के संपर्क में आने की वजह से ही फैल रहा है और लोग इसी वजह से इसके शिकार हो रहे हैं। अब कोरोना वायरस फैलने का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। हांगकांग में स्वास्थ्य अधिकारियों ने पुष्टि की है कि वहां एक 60 साल की महिला की वजह से उसके पालतू कुत्ते को कोरोना वायरस हुआ है। यह कोरोना वायरस का पहला ऐसा मामला है जब इंसान से किसी पालतू जानवर को कोरोना का संक्रमण हुआ है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने इसे एक निम्न स्तर का संक्रमण बताया है। ये मानव से जानवर में हुआ है।

चीन में मीडिया रिपोर्ट और न्यूज एजेंसी के मुताबिक जिस महिला के कुत्ते को कोरोना का संक्रमण हुआ है उस महिला में 25 फरवरी को कोरोना के लक्षण पाए गए थे। उसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। उसके बाद एहतियात के तौर पर उसके घर में पालतू कुत्ते को भी इसके परीक्षण के लिए पशुओं के विभाग में भेजा गया, वहां पर उसकी रिपोर्ट पाजिटिव पाई गई।

पामेरियन नस्ल के इस कुत्ते का फिलहाल इलाज चल रहा है। फिलहाल कोरोना वायरस (कोविड-19) अब तक 78 से अधिक देशों में फैल चुका है। कोरोना की वजह से दुनियाभर में अब तक 3200 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। 92 हजार से अधिक लोग कोरोना वायरस से प्रभावित भी हैं। चीन में हजारों की संख्या में लोग इस बीमारी से ठीक होकर अपने घरों को भी जा चुके हैं। कोरोनावायरस के लक्षण की बात की जाए तो सबसे पहले बुखार होता है। इसके बाद सूखी खांसी होती है और फिर एक सप्ताह बाद सांस लेने में परेशानी होने लगती है। ऐसी स्थिति में यह कह पाना सही नहीं होगा कि किसी को भी कोरोना वायरस है। ज़ुकाम और फ्लू में भी ऐसी स्थिति उत्तपन्न होती है इसलिए अगर ये लक्षण हैं तो पीड़ित को तुरंत जांच करवाना चाहिए।

हम हार चुके हैं कोरोना वायरस के खिलाफ जंग

लंदन। भारत समेत दुनिया के 80 देशों में कोरोना वायरस की महामारी फैल चुकी है। विश्वभर में 95,413 मरीज कोविड-19 से पॉजिटिव पाए गए हैं। 3,285 लोग इस किलर वायरस की चपेट में आकर जान गंवा चुके हैं। इस बीच दुनिया के एक दिग्गज वैज्ञानिक ने चेतावनी दी है कि हम कोरोना के खिलाफ जंग अब पूरी तरह से हार चुके हैं। लंदन के इंपीरियल कॉलेज में प्रफेसर नील फर्गूसन ने स्वीकार किया कि दुनिया ने एकजुट होकर कोरोना को रोकने के लिए बहुत कठिन प्रयास किया लेकिन हम असफल रहे हैं। प्रफेसर फर्गूसन का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब कोरोना के जन्मस्थान चीन में अब इस वायरस से संक्रमण के मामले कम होते जा रहे हैं लेकिन दुनिया के अन्य देशों में यह बीमारी बहुत तेजी से बढ़ रही है।

चीन… कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,012 तक पहुंची

बीजिंग। चीन में गुरुवार को कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 80,409 होने के साथ ही इससे होने वाली मौतों की संख्या 3,012 हो गई। चीन के वेबसाइट ने गुरुवार को बताया कि वुहान पार्टी के प्रमुख चेन यिक्सिन ने कहा कि घातक बीमारी के खिलाफ शहर की लड़ाई ‘गंभीर’ अवस्था में पहुंच गई है। साथ ही देश के अन्य हिस्सों के लोगों के निरीक्षण का आदेश भी दे दिया गया है।

इटली… कोरोना से मरने वालों की संख्या पहुंची 100 के पार

रोम। कोरोना वायरस से इटली में मरने वालों का आंकड़ा 100 के पार पहुंच गया और संक्रमण की चपेट में आने वाले व्यक्तियों की संख्या तीन हजार से ऊपर चली गई है। सरकार ने यह जानकारी दी। पिछले चौबीस घंटों में 28 और लोगों की जान चली गई जिससे मृतकों की संख्या 107 हो गई है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार इटली में अब तक 3,089 मामले दर्ज किए गए हैं।

Next Post

96 की कार्तियानी व 105 साल की भागीरथी को नारी शक्ति पुरस्कार

Fri Mar 6 , 2020
तिरुवनंतपुरम 8 मार्च यानी महिला दिवस के मौके पर राष्ट्रपति करेंगे सम्मानित कहा जाता है कि पढ़ाई की कोई उम्र नहीं होती है। इस बात को हकीकत बनाने वालीं केरल की दो बुजुर्ग महिलाओं को सम्मानित करने की तैयारी की जा रही है। दरअसल, 96 वर्षीय कार्तियानी अम्मा ने वर्ष […]