‘एक्टिंग अच्छी है लेकिन सुंदर नहीं हो बोल के रिजेक्ट किया’

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। अच्छा आप किसी इंसान की सुंदरता का पैमाना कैसे तय करते हैं। कोई इंसान कितना सुन्दर/बदसूरत है ये आखिर कैसे पता किया जा सकता है। ऐसी ही एक वीडियो इंटरनेट पर है जिसमें एक 4 साल की लड़की खुद को बदसूरत बताती है। वहीं एक इंटरव्यू में राधिका ने बताया कि एक बार उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया था और उन्हें इसकी वजह उनका सुंदर न होना बताया गया था।

इरफान खान और राधिका मदान की फिल्म अंग्रेजी मीडियम 13 मार्च को रिलीज होने वाली है। फिल्म में राधिका, इरफान की बेटी के रोल में नजर आएंगी। राधिका बॉलीवुड इंडस्ट्री में नई हैं, लेकिन ‘पटाखा’ और ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ जैसी फिल्मों में उनके काम को खूब प्रशंसा मिल चुकी है। अब वह इरफान के साथ स्क्रीन शेयर कर रही हैं।

हाल ही में उन्होंने पिंकविला को एक इंटरव्यू दिया है जिसमें राधिका ने बताया, “उन्हें सुंदर नहीं होने की बात कहकर एक डायरेक्टर ने रिजेक्ट कर दिया था। मुझे कास्टिंग के लिए बुलाया गया और कहा गया कि मैं ज्यादा सुंदर नहीं हूं। डायरेक्टर को मेरी एक्टिंग तो काफी पसंद आई थी, लेकिन उन्होंने कहा कि मुझे ज्यादा सुंदर होना चाहिए था। वह बड़ा प्रोडक्शन हाउस था। सबकुछ अच्छा हो रहा था, लेकिन सब कुछ अच्छा होते होते रह गया था।”

राधिका कहती हैं कि ये सुनने के बाद उस समय मुझे भी ऐसा लगने लगा था कि वो शायद उतनी सुंदर नहीं है, लेकिन डायरेक्टर विशाल भारद्वाज ने उनकी सोच और फिल्मों को देखने का नजरिया बदला। उन्होंने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में एक्टिंग आपको पर्मानेंट करती है, लुक्स नहीं। राधिका ने अपनी पहली फिल्म ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ में विशाल भारद्वाज के साथ काम किया था। एक्ट्रेस ने बताया कि वो करीना कपूर की लॉयल फैन हैं। उनके लैपटॉप और घर में करीना के पोस्टर लगे हुए हैं।

एक और वाक्या शेयर करते हुए राधिका बताती हैं कि उन्होंने फिल्म ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’ के लिए ऑडिशन दिया था, लेकिन वो रिजेक्ट हो गईं। इसके बाद उन्होंने ‘पटाखा’ के लिए आडिशन दिया और सलेक्ट हुईं। राधिका ने बताया कि वो नेपोटिज्म की शिकार हो चुकी हैं। वहीं वो बताती हैं एक फिल्म का ऑडिशन देने गई थीं, लेकिन प्रोड्यूसर ने उनसे कहा कि वो रोल मैंने किसी एक्टर की बेटी को दे दिया है। मैं उस प्रोजेक्ट को करना चाहती थी। मैनें उनसे कहा कि आप ऑडिशन तो लीजिए।

वायरल वीडियो में इस चार साल की बच्ची का नाम अरीयाना है। इसने खुद को सबसे बदसूरत बताया है और इस वीडिओ में ये बताते हुए वो रोने लगती है। जो वाकई निराशाजनक पल था। बच्ची की माँ ये सुनते ही उसे समझाती है कि वो सबसे खूबसूरत है उसके जैसे डिंपल किसी के नहीं है। इसपर हेयरस्टाइलिस्ट शाब्रीआ ने भी रियेक्ट किया है। वहीं डायरेक्टर मैथ्यू चेरी ने बच्ची का मनोबल बढ़ाने के लिए एक किताब शेयर किया है जिसका नाम ‘ब्लैक मेन कैरेक्टर्स’ है।

Next Post

टोरी कॉर्नर नाम रखा दद्दू तिवारी ने और सबसे पहली गेर निकाली बाबूलाल गिरि ने

Fri Mar 13 , 2020
कीर्ति राणा | इंदौर जिस टोरी कॉर्नर (मल्हारगंज) से शहर की पहली गेर की शुरुआत हुई, उस तिकोने रास्तों वाले तिराहे का टोरी कॉर्नर नामकरण पुराने समाजवादी दद्दू तिवारी (गंगाप्रसाद तिवारी) ने किया। शहर की इस पहली गेर की शुरुआत कांग्रेस के पूर्व पार्षद बाबूलाल गिरि (गिरि होटल) ने की, […]