नड्डा से मुलाकात के बाद हवाईअड्डे से ही लौट गए कांग्रेसी विधायक

प्रजातंत्र ब्यूरो | भोपाल

राजधानी भोपाल से लेकर बेंगलुरु तक शुक्रवार का दिन बागी विधायकों का इंतजार करते हुए बीता। बेंगलुरु के रिसोर्ट में रुके कांग्रेस के 19 विधायकों को शुक्रवार दोपहर भोपाल आना था। विधायक बेंगलुरु एयरपोर्ट तक भी पहुंचे लेकिन वापस हो गए। उन्हें भोपाल तक लाने के लिए 10 -10 सीटर दो चार्टर प्लेन भी बेंगलुरु एयरपोर्ट पर खड़े रहे। इसी बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा बेंगलुरु हवाई अड्डे पर पहुंच गए। नड्डा ने वहां वीआईपी लाउंज में विधायकों से चर्चा की। इसके बाद विधायक भोपाल आने के बजाय वापस बेंगलुरु के रिसोर्ट में पहुंच गए। इधर भोपाल में विधायकों के आगमन की सूचना पर हवाई अड्डे पर दोनों दलों के कार्यकर्त्ता जुटे, हाथापाई भी हुई। विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति विधायकों से मिलने के लिए दफ्तर पहुंच गए थे विधानसभा भवन में 3 घंटे तक इन विधायकों का इंतजार करने के बाद वे लौट गए। सिंधिया समर्थक इन विधायकों ने इस्तीफा दिया है। विधायकों को विधानसभा अध्यक्ष के सामने हाजिर होकर अपने इस्तीफे की पुष्टि करनी थी।

लंच के बाद विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति भी विधानसभा में बैठे रहे और पूरा मीडिया भोपाल के एयरपोर्ट से लेकर विधानसभा तक विधायकों की कवरेज के लिए बैठा रहा। शाम करीब 6 बजे भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा बेंगलुरु पहुंचे उन्होंने वहां वीआईपी लाउंज में कांग्रेस के सभी 19 बागी विधायकों से बात की। बाद में यह सभी विधायक रिसोर्ट पहुंच गए। इस बीच खबर यह भी थी कि इस सभी विधायकों को दिल्ली के पास मानेसर में शिफ्ट किया। भाजपा के रणनीतिकारों ने सभी 19 विधायकों को भोपाल आने का प्रोग्राम बनाया था। इसके लिए दो चार्टर प्लेन भी भोपाल आने के लिए तैयार खड़े थे।

इस्तीफा देने वाले छह मंत्री बर्खास्त : राज्यपाल ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने वाले छह मंत्रियों को राज्य मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस संबंध में पूर्व में राज्यपाल को पत्र भेजा था और शुक्रवार की सुबह उन्होंने राजभवन में राज्यपाल से मुलाकात भी की थी। बर्खास्त मंत्रियों में परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न तोमर, श्रम मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया, महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी, स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभु राम चौधरी स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट शामिल हैं। इनके विभाग अन्य सहयोगियों को दिए गए हैं।

सिंधिया की गाड़ी पर पथराव, शिवराज बोले- ये कांग्रेस की साजिश

भोपाल। कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को एयरपोर्ट जाते समय अप्रिय स्थिति का सामना करना पड़ा। शुक्रवार रात करीब 9:30 बजे कमला पार्क के नजदीक उनके काफिले पर अचानक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कथित रूप से हमला कर दिया। उन्हें न केवल काले झंडे दिखाए गए बल्कि उनके काफिले पर पत्थर भी बरसाए गए। हालांकि उनका काफिला तेजी से निकल गया। इसके बाद शिवराज सिंह चौहान ने आरोप लगाया कि यह हमला सुनियोजित था और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने यह हमला किया है। इस मामले में प्रकरण दर्ज करने को लेकर बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता श्यामला हिल्स थाने पर इकट्ठा हुए।

सिंधिया, बघेल व सोलंकी ने भरा पर्चा

शुक्रवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राज्यसभा का नामांकन दाखिल किया। इसके अलावा भाजपा से ही रंजना बघेल और सुमेरसिंह सोलंकी ने भी परचा दाखिल किया। इस मौके पर वरिष्ठ भाजपा नेता नरेंद्र तोमर, शिवराजसिंह चौहान, प्रभात झा, गोपाल भार्गव भी उपस्थित रहे।

Next Post

कोरोना वायरस के डर के बीच केरल की ये सोच और तस्वीर दिल जीत रही है

Sat Mar 14 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। आंगनबाड़ी की महिलाएं और मीड डे मील अक्सर बच्चों को ख़राब खाना खिलाने को लेकर सुर्ख़ियों में रहता है। लेकिन वायरल हो रही ये मीड डे मील की तस्वीर और उसके पीछे की सच्चाई जान कर सच में आपका दिन बन जायेगा। दरअसल केरल के राज्य प्रशासन […]