माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर का इस्तीफ़ा, ये है वजह

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। माइक्रोसॉफ्ट ने एक घोषणा की है। घोषणा में बताया गया है कि बिल गेट्स ने कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स से इस्तीफा दे दिया है। कंपनी का कहना है कि वह अपना ज्यादा समय लोगों की भलाई के काम में देना चाहते हैं इसलिए उन्होंने इस्तीफ़ा दिया है।

माइक्रोसॉफ्ट की तरफ से ये भी बताया गया कि गेट्स वैश्विक स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए ज्यादा काम करना चाहते हैं और इसीलिए वह इस जिम्मेदारी से मुक्त हो रहे हैं। हालांकि वह माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला के साथ तकनीकी सलाहकार के रूप में काम करते रहेंगे।

हालांकि उन्होंने कहा है कि कंपनी उनके लिए हमेशा ही महत्वपूर्ण रहेगी और वो मौजूदा सीईओ सत्या नडेला और अन्य अधिकारी के सलाहकार के रूप में काम करते रहेंगे। गेट्स का कहना है कि वो वैश्विक स्वास्थ्य, शिक्षा और जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर अधिक काम करना चाहते हैं।

गेट्स ने 1975 में पॉल अलेन के साथ मिलकर यह कंपनी बनाई थी और वह साल 2000 तक इसके सीईओ थे। गेट्स के इस्तीफे के बाद कंपनी के बोर्ड में कुल 12 सदस्य बचे हैं। इसमें माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला भी शामिल हैं।

नडेला ने कहा, “बोर्ड को गेट्स का मार्गदर्शन मिला। गेट्स की सलाह का फायदा आगे भी कंपनी उठाती रहेगी और उनकी तकनीकी सलाह भी मिलती रहेगी। मैं बिल की मित्रता के लिए आभारी हूं और आगे भी लोगों की भलाई के लिए उनके साथ काम करना चाहूंगा।”

12 साल पहले यानी साल 2008 में उन्होंने कंपनी के सीईओ की पद से इस्तीफ़ा दे दिया और ख़ुद को कंपनी के रोज़ाना के काम से दूर कर लिया था। लेकिन वो 2014 तक कंपनी के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स के चैयरमैन बने रहे।

2020 की फ़ोर्ब्स की अरबपतियों की लिस्ट के अनुसार 103 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ बिल गेट्स दुनिया के दूसरे सबसे धनी व्यक्ति हैं। इस लिस्ट में पहले नंबर पर हैं अमेज़न कंपनी के सीआओ जेफ़ बेज़ोस. इनकी संपत्ति 110 अरब डॉलर से भी अधिक है।

Next Post

मोदी की अपील का पकिस्तान ने किया समर्थन, कहा वीडियो कॉन्फ्रेंस में लेंगे हिस्सा

Sat Mar 14 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। दुनिया भर में कोरोना वायरस को लेकर हलचल मची हुई है। वहीं पाकिस्तान ने पीएम मोदी के प्रस्ताव पर सकारात्मक प्रतिक्रिया व्यक्त की है। पीएम मोदी ने दक्षिण एशियाई संघ के क्षेत्रीय सहयोग (SAARC) देशों के नेताओं को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना वायरस महामारी से […]