आईबी कर्मी पर चाकू से किए थे 12 वार

नई दिल्ली

पांच और गिरफ्तार… हिंसा भड़काने के तीन आरोपियों को अदालत ने 12 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान मारे गए इंटेलिजेंस ब्‍यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनके शरीर पर चोटों के कुल 51 निशान पाए गए, जिनमें से चाकू से गोदे जाने के 12 निशान हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि अंकित के शरीर पर तेज धारदार हथियार से चोट के 33 निशान भी मिले हैं। ये निशान अंकित शर्मा के पैर, सीने, जांघ और शरीर के पिछले हिस्से में हैं। इसके साथ ही छह कट के निशान हैं, जिसमें स्क्रैच के निशान भी हैं। अंकित के सिर पर रॉड और डंडे से चोट के निशान भी मिले हैं। इस बीच, पुलिस ने अंकित शर्मा की निर्मम हत्या के मामले में शनिवार को पांच और लोगों को गिरफ्तार किया। इसके साथ ही उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा भड़काने के आरोप में अदालत ने शनिवार को सुमित, अंकित और प्रिंस को 12 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट कहती है कि अंकित शर्मा की मौत फेफड़ों और सिर पर लगी गंभीर चोट से हुई थी। रिपोर्ट कहती है कि अंकित शर्मा के पूरे शरीर पर चोट के निशान मिले हैं, लेकिन अधिकतर निशान उनकी पीठ और रीढ़ की हड्डी में हैं। बता दें कि अंकित 25 फरवरी को गायब हुए थे। वह उत्तर पूर्वी दिल्ली में अपने परिवार के साथ रहते थे। हिंसा के दौरान चाकू मारने और बेरहमी से पिटाई करने के बाद उनकी हत्या कर दी गई थी। अंकित शर्मा का शव 26 फरवरी को चांदबाग में नाले से मिला था। परिवार के मुताबिक, वो दफ्तर से आकर बाहर लोगों को समझाने गए थे, तभी ताहिर हुसैन के घर के बाहर भीड़ ने उन्हें पकड़ कर पीटा, चाकुओं से हमला किया। इसके बाद ताहिर के घर के अंदर ले जाकर भी मारापीटा। इस मामले में पहले सलमान नाम के एक शख्स की गिरफ्तारी हुई थी। शर्मा की हत्या का आरोप आम आदमी पार्टी से निष्कासित पार्षद ताहिर हुसैन पर लगा है और उन्हें भी इस मामले में गिरफ्तार किया गया है।

कपड़े उतारकर मारा अंकित को

पूछताछ में सलमान ने अंकित शर्मा की हत्या को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसने बताया कि आईबी कर्मी अंकित शर्मा को मारने से पहले उनके सभी कपड़े उतारे गए थे। इसके बाद उन्हें चाकू से गोदा गया। आरोपी करीब आधे घंटे तक अंकित शर्मा को चाकू से गोदते रहे और लाठी-डंडों से वार करते रहे थे। बाद में उनके शव को नाले में फेंक दिया गया।

ताहिर हुसैन पर क्या-क्या आरोप?

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने ताहिर हुसैन के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग, हत्या, आगजनी और हिंसा फैलाने का मामला दर्ज किया गया है। दिल्ली पुलिस ने ताहिर हुसैन के चांदबाग स्थित घर और खजूरी खास स्थित फैक्ट्री को सील कर दिया है। शुक्रवार को कड़कड़डूमा कोर्ट ने हसीन उर्फ सलमान को चार दिन के रिमांड पर अपराध शाखा को सौंप दिया था। वहीं कोर्ट ने ताहिर को तीन दिन के रिमांड पर भेजा है, जबकि उसके भाई शाह आलम व आबिद, राशिद और शादाब को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।

Next Post

फर्ग्युसन का कोरोना टेस्ट आया नेगेटिव, लौटेंगे घर

Sun Mar 15 , 2020
नई दिल्ली टीम ने ली राहत की सांस पिछले दो दिनो में दो क्रिकेटर पर कोरोना वायरस से संक्रमित होने का शक जताया जा चुका है। पहले ऑस्ट्रेलिया के केन रिचर्ड्सन और अब न्यूजीलैंड के लॉकी फर्ग्युसन। न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज लॉकी फर्ग्युसन को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए पहले […]