युद्ध में भी कम नहीं हुई थी ट्रेन की रफ्तार, गंभीरता को समझें और घर में ही रहें

नई दिल्ली

गंभीरता से हाल में किए गए एक ट्वीट में रेल मंत्रालय ने नॉवेल कोरोना वायरस को लेकर हालात की गंभीरता बताते हुए लोगों को घर के भीतर ही रहने की सलाह दी है…

भारत में 500 से अधिक नॉवेल कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं और इसके कारण अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है। रेल मंत्रालय ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा,’हम युद्ध के दौरान भी नहीं रुके, हालात की गंभीरता को समझें घर में ही रहें।’

रेल मंत्रालय के इस ट्वीट पर धडाधड़ प्रतिक्रियाएं आने लगीं और कुछ ही घंटों में इसे 34.8 हजार से अधिक बार रिट्वीट किया गया। इस ट्वीट को 98 हजार से अधिक लाइक्स मिले। लोगों ने कमेंट्स सेक्शन में अपना सपोर्ट दिखाया। नए कोरोना वायरस के कारण भारतीय रेलवे ने भी अपनी सेवा रोक दी है। इस क्रम में 13,523 ट्रेनों को रोका गया है केवल मालगाड़ियों का परिचालन जारी रहेगा। शुरुआत में भारतीय रेलवे ने केवल यात्री ट्रेनों की सेवाएं रोकी थीं। रविवार रात रेलवे ने सभी यात्री सेवाओं को बंद करने का फैसला ले लिया।

इसके अलावा रेलवे ने ट्वीट कर प्रशासन द्वारा उठाए गए कदमों की भी जानकारी दी थी। ट्वीट में बताया, ‘वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए और देश में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन द्वारा विभिन्न सक्रिय कदम उठाए गए हैं, कृपया इनका पालन करने में सहयोग करें। सोशल डिस्टेंस बनाए रखें और भीड़- भाड़ वाली जगहों में बिलकुल भी ना जाएं।’

आईसीएमआर ने कहा…तो तीन हफ्ते में जीत सकते हैं यह लड़ाई, लैंसेट में यह दी गई सलाह

नई दिल्ली/लंदन | कोरोना के बढ़ते कहर के बीच एक राहत की खबर है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने हालिया अध्ययन में पाया है कि होम क्वारंटाइन और लॉकडाउन जैसे कदम कोरोना के प्रसार को रोकने की दिशा में बहुत कारगर कदम हैं। अगर सतर्कता के साथ निर्देशों का पालन किया जाए तो 22 दिन में इसके कहर को थामना संभव है। हालांकि अगर लापरवाही हुई तो इससे निपटने में कई महीने भी लग सकते हैं। फरवरी के आखिर तक सामने आए मामलों का गणितीय मॉडलिंग के जरिये विश्लेषण करते हुए आइसीएमआर ने यह निष्कर्ष निकाला है। आइसीएमआर ने कोरोना के प्रसार को लेकर कुछ अन्य निष्कर्ष भी दिए हैं। इसमें कहा गया है कि कोरोना से ग्रसित एक व्यक्ति एक दिन में चार लोगों तक इसे फैला सकता है।

Next Post

कोरोना के चलते बिना विपक्ष के ही शिवराज ने जीता फ्लोर टेस्ट

Wed Mar 25 , 2020
ब्यूरो | भोपाल भाजपा विधायक दल के नेता नवनियुक्त मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को सदन में विश्वास मत हासिल कर लिया। वे सर्वसम्मति से सदन के नेता चुने गए। मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने सदन की कार्यवाही में हिस्सा नहीं लिया। विश्वास मत से पहले ही मुख्यमंत्री चौहान […]