कोरोना का एंटीडोट बताये जाने वाले दवा को सरकार क्यों बैन कर रही

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने अभी कुछ दिन पहले एक दवा का नाम लिया था जिसे कोरोना वायरस का इलाज संभव है ऐसा बताया था। अब सरकार उसे बैन कर रही है। इस दवा का नाम हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन है जो मलेरिया रोधी दवा है।

अब इसके बाद इस दवा का निर्यात काफ़ी बढ़ गया। लोग भी दुकानों से इस दवा को ख़रीद-ख़रीदकर ले जाने लगे।इसके बाद इन दवाओं को बनाने वाली प्रमुख कम्पनियों इपका और जाइडस कैडिला के शेयरों में ज़बरदस्त उछाल देखा गया। ख़बरों के अनुसार अमरीका से भारी मात्रा में हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन के ऑर्डर भारत आए। फ़िलहाल, भारत सरकार ने इन दवाओं के निर्यात पर रोक लगा दी है।

भारतीय चिकित्सा शोध परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक बलराम भार्गव ने सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के संदिग्ध या पुष्ट मामलों में देखभाल करने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के इलाज के लिए हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन के इस्तेमाल की सिफारिश की थी।

आईसीएमआर द्वारा कोविड-19 पर गठित राष्ट्रीय कार्यबल द्वारा की गई इलाज की सिफारिशों को भारतीय दवा महानियंत्रक (डीजीसीआई) ने आपातकालीन स्थितियों में प्रतिबंधित उपयोग के लिए मंजूरी दी है। यानी अब इन दवाओं को एमर्जेन्सी के लिए रखा जा रहा है।

वहीं वाणिज्य मंत्रालय के तहत आने वाले विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) की बुधवार को जारी एक अधिसूचना में कहा गया, “हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन और हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन बनाने वाले घटकों के निर्यात को तत्काल प्रभाव से रोक दिया गया है।सरकार विदेश मंत्रालय की सिफारिश पर मानवीय आधार पर दवा के निर्यात की अनुमति देगी।”

मलेरिया के इलाज के साथ ही इसका इस्तेमाल प्रोफिलैक्सिस में होता है।प्रोफिलैक्सिस मतलब रोग होने के पहले ही दवा खाने वाली स्थिति। मतलब दवा ख़ा ली, अब हो सकता है कि रोग न हो ऐसी संभावना होती है।

Next Post

इस फ़िल्म को दुनिया भर में दस भाषाओं में रिलीज किया जाएगा, मोशन पोस्टर आज हुआ रिलीज़

Wed Mar 25 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। कोरोना वायरस से सब त्रस्त हैं। वहीं बाहुबली वाले फिल्ममेकर राजामौली सबको चीयर अप करने के लिए मोशन पोस्टर लांच किया है। एस.एस राजामौली ने 24 मार्च को एक ट्वीट किया था जिसमें बताया था कि वो अपनी अगली फिल्म का पोस्टर और टाइटल रिलीज़ करने वाले […]