ओडिशा में बनेगा देश का सबसे बड़ा कोरोना अस्पताल

नई दिल्ली/भुवनेश्वर

कोरोना से लड़ने के लिए पटनायक सरकार ने दिखाई चीन जैसी फुर्ती, 15 दिन में बनाएगी 1000 बेड का अस्पताल

कोरोना से लड़ने के लिए ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार ने चीन जैसी फुर्ती दिखाई है। राज्य सरकार ने दो हफ्ते के भीतर देश 1000 बेड का अस्पताल बनाने की घोषणा की है। ये अस्पताल सिर्फ और सिर्फ कोरोना के मरीजों के लिए समर्पित होगा। 15 दिनों में यह अस्पताल तैयार हो जाएगा। इस ऐलान के साथ ही ओडिशा देश का ऐसा पहला राज्य बन गया है जो सिर्फ कोरोना पीड़ितों के लिए अस्पताल बनाएगा। इसके लिए ओडिशा सरकार, कॉर्पोरेट और मेडिकल कॉलेजों के बीच एक त्रिपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं। ये अस्पताल देश में सबसे बड़ा कोरोना अस्पताल होगा। उधर, असम सरकार ने भी कोरोना वायरस के प्रकोप से निपटने के लिए गुवाहाटी के इंदिरा गांधी एथलेटिक्स स्टेडियम में आइसोलेशन सेंटर का निर्माण शुरू कर दिया है। भारतीय रेलवे ट्रेनों में आइसोलेशन वॉर्ड के साथ ही वेंटिलेटर्स बनाने की तैयारी कर रही है। कपूरथला की रेल कोच फैक्ट्री को एलएचबी कोच को आइसोलेशन वॉर्ड में बदलने का जिम्मा सौंपा गया है। चेन्नई की इंटीग्रल कोच फैक्ट्री को वेंटिलेटर्स तैयार करने को कहा गया है। खाली डिब्बों और केबिन को मरीजों के लिए आईसीयू के तौर पर इस्तेमाल करने की भी योजना है।

चीन ने वुहान में 10 दिन में बनाया था 1500 बेड वाला अस्पताल

चीन ने वुहान शहर में कोरोना वायरस फैलने के बाद 10 दिन के भीतर अस्पताल तैयार कर दिया था। साथ ही वहां 1400 डॉक्टरों की टीम भी तैनात कर दी थी। 1500 बेड वाले अस्पताल के निर्माण के लिए निर्माण दल ने दिन-रात काम किया था। चीन में कोरोना वायरस वुहान से फैलना शुरू हुआ था।

Next Post

पढ़ें और सबक लें... पुणे के पहले पीड़ित परिवार ने ऐसे दी कोरोना को मात

Fri Mar 27 , 2020
नगर संवाददाता | इंदौर कोरोना वायरस से संक्रमित महाराष्ट्र के पहले परिवार ने जंग जीत ली है। परिवार के तीन सदस्य पॉजिटिव पाए गए थे। बुधवार शाम को सभी ठीक होकर घर लौट गए। परिवार ने अपनी कहानी मीडिया से साझा की है, ताकि बाकी लोग इससे सबक ले सकें। […]