योगी आदित्यनाथ की ये बात सुनकर लॉकडाउन का दुःख भूल जाएंगे

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

लॉकडाउन के बीच दूसरे राज्यों से पलायन कर रहे लोगों के लिए एक अच्छी ख़बर है। योगी सरकार ने एक हजार रोडवेज बसों की व्यवस्था की है। इसके लिए सीएम योगी ने शुक्रवार रात भर जाग कर नोएडा, गाजियाबाद ,बुलंदशहर, अलीगढ़, हापुड़ आदि इलाक़ों में बसें लगाकर मजदूरों को गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था कराई।

इस पहल की हो रही तारीफ़

केंद्र के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार इससे बचाव तथा सतर्कता को लेकर बेहद गंभीर है। जब ये तस्वीरें सामने आई तो सरकार ने कुछ कदम उठाने शुरू कर दिए। ऐसे में यूपी सरकार ने सड़क पर सैकड़ों किलोमीटर पैदल चल रहे मजदूरों की हालत को देखते हुए बस की सुविधा उपलब्ध कराने का फैसला लिया है। 

दिल्ली-यूपी बॉर्डर के पास हजारों की संख्या में लोग परिवार और सामान के साथ जमे रहे। यहां लोग बसों की भीतर तो खचाखच भरी दिखाई ही दिए, बस की छत पर भी दर्जनों की संख्या में चढ़े हुए थे। पूछने पर बस एक ही बात यह लोग कह रहे हैं कि हम अपने गांव जा रहे हैं।

यह पूछने पर कि सरकार खाने की व्यवस्था कर रही है और आर्थिक मदद भी की जा रही है तो फिर पलायन क्यों कर रहे हैं? मजदूरों ने कहा कि उनको अब अपने घर ही जाना है। पैदल ही अपने-अपने गांव की ओर निकल पड़े मजदूरों के चेहरे पर कोरोना की दहशत दिखाई दे रही थी। साफ पता चल रहा था कि दुनियाभर में फैली महामारी के बीच अब यह तबका पूरी तरह से डर गया है।

घोषणा पत्र में क्या-क्या सुविधाएं हैं

प्रदेश के 6 बड़े रूट्स पर 21 बसें चलाए जाने की घोषणा की। ये बसे नोएडा, गाजियाबाद और हापुड़ से लेकर यूपी के अन्य क्षेत्र में जाएगी। सरकार के आदेश के बाद ही तुरंत गढ़मुक्तेश्वर रोडवेज डिपो से मजदूरों को गाजियाबाद लाने के लिए बस सेवा शुरू की गई। वहीं यात्रियों को रवाना करने से पहले बसों को अच्छे से सैनेटाइज कराया गया है।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने मज़दूरों के भोजन का भी इंतज़ाम करवाते हुए निर्देश दिया कि प्रदेश में अन्य राज्यों से आ रहे श्रमिकों को उनकी मौजूदगी वाले इलाके के आसपास किसी विद्यालय, धार्मिक स्थल, सामुदायिक केंद्र आदि पर रोककर बंद की अवधि तक भोजन, पेयजल, दवा उपलब्ध कराई जाए। साथ ही प्रदेश से गुजरने वाले श्रमिक चाहे किसी भी प्रदेश के हों, उनके लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं।

Next Post

आखिर क्यों पीएम मोदी को देशवासियों से माफ़ी मांगनी पड़ी

Sun Mar 29 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। देश में पहली बार कोविड-19 महामारी को मद्देनजर रखते हुए लॉक डाउन मोड में जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पहली बार मन की बात में 130 करोड़ जनता से हाथ जोड़ कर माफ़ी मांगी। मोदी ने मन की बात में अपने विचार व्यक्त करते […]