संक्रमण के सबसे बुरे दौर में अमेरिका, रोजाना बढ़ रहे 12 प्रतिशत मरीज

वाशिंगटन

सुपर पावर अमेरिका ने कोरोना के आगे घुटने टेक दिए हैं। यहां एक दिन में करीब 2000 लोगों की मौत हुई है। हालांकि मौतों के मामले में इटली और स्पेन अब भी अमेरिका से अधिक है

अमेरिका में कोरोना संक्रमण के सबसे बुरे दौर में पहुंच गया है। देश में संक्रमितों की संख्या चार लाख के करीब हो गई है जबकि करीब तेरह हजार लोग जान गंवा चुके हैं। एक ही दिन में 2000 अमेरिकी मौत का शिकार हो चुके हैं। जॉन्स हॉप्किंस यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के मुताबिक दुनिया में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले अमेरिका में ही दर्ज हुए हैं जो 12 फीसदी की दर से प्रतिदिन बढ़ रहे हैं। हालांकि मौतों की संख्या अब भी इटली और स्पेन में अमेरिका से अधिक है। पूरे विश्व में संक्रमितों की संख्या 1446557 पहुंच गई है, जबकि 83424 लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका के न्यूयॉर्क राज्य में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा 731 लोगों की मौत हो गई। एक दिन में जान गंवाने का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू क्योमो ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि अस्पताल में लाशों का ढेर लग गया है। कोरोना वायरस के प्रकोप की शुरुआत के बाद से न्यूयॉर्क राज्य में अब तक 5,489 लोगों की मौत हो चुकी है।

न्यूयॉर्क, न्यूजर्सी और लुइसियाना के गवर्नरों ने चेताया है कि कोरोना वायरस का प्रसार शिखर पर पहुंच रहा है। हमें संतोष नहीं रख सकते। इन तीन केंद्रों में महामारी चरम पर है। इस बीच न्यूयॉर्क में खतरे को देखते हुए लॉकडाउन की मियाद 29 अप्रैल तक बढ़ा दी गई है। यहां सोशल डिस्टेंसिंग के दिशा-निर्देश न मानने वालों के लिए जुर्माना 500 से बढ़ाकर 1000 अमेरिकी डॉलर किया गया है।

डब्ल्यूएचओ को फंडिंग पर लगाएंगे रोक : ट्रंप

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) पर बड़ा आरोप लगाया है। ट्रंप ने कहा कि वह विश्व स्वास्थ्य संगठन को अमेरिका की ओर से दिए जाने वाले वित्त पोषण (फंडिंग) पर रोक लगाएंगे। उन्होंने संगठन पर कोरोना वायरस महामारी के दौरान सारा ध्यान चीन पर केंद्रित करने का आरोप लगाया। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हम डब्ल्यूएचओ पर खर्च की जाने वाली राशि पर रोक लगाने जा रहे हैं। हम इस पर बहुत प्रभावशाली रोक लगाने जा रहे हैं। अगर यह काम करता है तो बहुत अच्छी बात होगी। लेकिन जब वे हर कदम को गलत कहते हैं तो यह अच्छा नहीं है।’ राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि उनको मिलने वाले वित्तपोषण का अधिकांश या सबसे बड़ा हिस्सा हम उन्हें देते हैं।

डोनाल्ड ट्रंप बोले कि ज्यादा टेस्ट से होने से आए अधिक मामले

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा है कि देश में कम से कम 17 लाख लोगों का कोरोना परीक्षण किया गया है। इस तरह के व्यापक परीक्षण के कारण ही अमेरिका में संक्रमण के सबसे अधिक मामले दर्ज हुए हैं। ट्रंप ने कहा कि दुनिया के किसी भी देश ने इतने ज्यादा परीक्षण नहीं किए हैं। उन्होंने दावा किया कि अमेरिका में कोरोना से संक्रमित लोगों के मामले ज्यादा इसलिए हैं क्योंकि हमने सबसे अधिक परीक्षण किए हैं। हालांकि जितनी आशंका थी, उससे कम मौतें हुई हैं।

यह भी कहा कि अफ्रीकी अमेरिकी समुदाय ज्यादा संवेदनशील

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अफ्रीकी अमेरिकी समुदाय कोरोना वायरस के लिए सबसे ज्यादा संवेदनशील है। ट्रंप ने कहा, “हम सक्रिय मामलों के बढ़ते असर की समस्याओं पर उलझ रहे हैं, यह एक वास्तविक समस्या है और यह अफ्रीकी-अमेरिकी समुदाय पर हमारे डेटा में बहुत मजबूती से दिखाई दे रहा है।” ट्रंप ने कहा, हम इस बात के ठोस सबूत देख रहे हैं कि अफ्रीकी अमेरिकी, देश के अन्य नागरिकों के मुकाबले कहीं अधिक प्रतिशत संख्या में प्रभावित हैं।

नौसेना प्रमुख थॉमस मोडली का इस्तीफा

विमान वाहक पोत यूएसएस थियोडोर रूजवेल्ट पर कोरोना वायरस की स्थिति से निपटने और फिर उसके कप्तान को हटाने के बाद उठे सवालों को लेकर अमेरिका के कार्यवाहक नौसेना प्रमुख थॉमस मोडली ने इस्तीफा दे दिया है। अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने यह जानकारी दी है। विमान वाहक पोत पिछले 11 दिन से गुआम में खड़ा है ताकि इसके चालक दल के सदस्यों की कोरोना वायरस की जांच की जा सके। इसके 100 से अधिक सदस्य अब तक कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं।

Next Post

मेरी नानी चीन में अकेले रहती हैं...

Thu Apr 9 , 2020
ज्वाला गुट्टा जिसकी मां चीनी हो उसके लिए भारत में पलना-बढ़ना आसान नहीं होता। मैं जब छोटी थी तो लोग तब भी नस्लभेद करते, भद्दे कमेंट करते। अब ट्विटर पर हमें चायना का माल और चिंकी कहा जाता है। लेकिन इस तरह ट्रोल और अपमानित किए जाने में मेरे साथ […]