कोरोना से जंग जीतने के बाद भी अपने घर नहीं पहुंच पायी ये इटालियन महिला

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

वह कुछ इटालियन साथी के साथ भारत घूमने आईं थी, यात्रा के दौरान बीमार पड़ गईं। जांच हुई तो कोरोना पॉजिटिव निकली इस वायरस के खिलाफ पाँच सप्ताह तक लड़ती रहीं। इस खतरनाक वायरस से बच गईं, लेकिन दुःख की बात है कि घर वापस आने से दो दिन पहले गुरुवार को दिल का दौरा पड़ने से उनकी मृत्यु हो गई।

रोम की 79 वर्षीय महिला मार्रेला फेरिलो उन 14 इटालियंस में शामिल थीं जिन्हें 4 मार्च को मेदांता मेडिसिटी में भर्ती कराया गया था। राजस्थान और तीन अन्य राज्यों की यात्रा के बाद दिल्ली लौटे पर्यटक देश में कोविड-19 की पहली बड़ी तादात वाले मामले दर्ज किये गए लोगों में शामिल थे।

डॉक्टर सुशीला कटारिया जो एक विशेषज्ञ होने के साथ मेदांता की कोविड टीम का नेतृत्व करती हैं ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, “हमने 23 मार्च को 11 इटालियन रोगियों को छुट्टी दे दी थी। फेरिलो का रिजल्ट कोविड-19 के लिए नकारात्मक हो गया था, जिसके बाद हमने शनिवार को एक एयर एम्बुलेंस द्वारा उसे घर भेजने का फैसला किया। फेरिलो नाइजीरिया में राजनीतिक शास्त्र पढ़ाया करती थीं। वहां तकरीबन 11 साल रहीं, काफ़ी जानकार और पढ़ी-लिखी थीं। यहां आने के बाद वो अक्सर माफ़ी मांगती रहती थीं कि इतनी जनसंख्या वाले हमारे देश में वो ‘वायरस लेकर’ आ गईं।”

डॉक्टर सुशीला ने आगे बताया कि पिछले 24 दिनों से वेंटिलेटर पर थीं। उनकी मौत के एक दिन पहले मैंने उनके परिवार को वीडियो कॉल किया था। फेरिलो ने उनकी शक्लें देखीं और उनके चेहरे के भाव बदल गए। उनके परिवार के लिए ये एक बहुत ही मुश्किल वक्त था।

एक वरिष्ठ चिकित्सक ने कहा कि इस महिला के फेफड़े बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुके थे। कोरोनोवायरस से पीड़ित होने के बाद उनके शरीर में रक्त में जीवाणु संक्रमण भी विकसित हो गया था।

जब उनकी कोविड-19 की रिपोर्ट नेगेटिव आई, तो हमने तय किया था कि एयर एम्बुलेंस से उन्हें शनिवार 11 अप्रैल को घर भेज देंगे। लेकिन गुरूवार 9 अप्रैल को सुबह उन्हें हार्ट अटैक आया और वो गुज़र गईं। हम सब उनकी मौत से बेहद दुखी हैं।
मारेला का अंतिम संस्कार दिल्ली में स्थित इटली का दूतावास कराएगा। ये जानकारी डॉक्टर ने दी।

Next Post

आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी ने माना ऑस्ट्रेलियाई टीम कोहली की चापलूसी करता है

Fri Apr 10 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। विराट कोहली की कप्‍तानी में भारतीय टीम ने साल 2018-19 में हुए ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर पहली पर टेस्‍ट क्रिकेट में जीत दर्ज की थी। भारत ऑस्‍ट्रेलिया को ऑस्‍ट्रेलिया में हराने वाला पहला एशियाई देश बना था। पूर्व कप्‍तान माइकल क्‍लार्क के उस कथन से ऑस्‍ट्रेलियाई तेज गेंदबाज […]