माफी मांगने के बाद भी दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष के खिलाफ राजद्रोह के केस

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान के खिलाफ राजद्रोह और नफरत फैलाने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है। जफरुल इस्लाम खान के खिलाफ दो समूहों में वैमनस्यता को बढ़ावा देने का आरोप है।

असल में, जफरुल इस्लाम खान ने बीते 28 अप्रैल को अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट लिखी थी। इस पोस्ट में जफरुल इस्लाम खान ने लिखा था कि मुसलमानों पर अत्याचार हो रहे हैं। हालांकि बताया जा रहा है कि इसके बाद 1 मई को जफरुल इस्लाम खान ने अपने इस फेसबुक पोस्ट के लिए माफी भी मांगी थी।

अपने माफीनामे में क्या लिखा

आलोचनाओं के बाद जफरुल खान ने अपने बयान को लेकर शुक्रवार को माफी मांगी थी। उन्होंने कहा था, “मेरा इरादा गलत नहीं था। मेरे ट्वीट में उत्तर-पूर्वी जिले की हिंसा के संदर्भ में कुवैत को भारतीय मुसलमानों के उत्पीड़न पर ध्यान देने के लिए धन्यवाद दिया गया, कुछ लोगों को इससे पीड़ा हुई, जो कभी भी मेरा उद्देश्य नहीं था।”

जफरुल ने अपने माफीनामे में आगे लिखा कि मुझे महसूस होता है जिस समय पूरा देश मेडिकल इमरजेंसी का सामना कर रहा है, उस समय मेरा ये ट्वीट असंवेदनशील था, मैं उन सभी से माफी मांगता हूं, जिनकी भावनाएं आहत हुईं। मैंने मीडिया के एक हिस्से को गंभीरता से लिया है जिसने मेरे ट्वीट को विकृत कर दिया और मुझे उन चीजों के लिए जिम्मेदार ठहराया जो मैंने कभी नहीं कहा। जरूरत पड़ी तो आगे कानूनी कदम उठाए जाएंगे।

उन्होंने इस बयान में अपने सभी दोस्तों का धन्यवाद भी किया और कहा कि अपने सभी दोस्तों और शुभचिंतकों को धन्यवाद देता हूं जो इस कठिन समय के दौरान एकजुटता से मेरे साथ खड़े रहे और मैं उन्हें विश्वास दिलाता हूं कि हमारे संस्थानों के भीतर और हमारे संविधान के ढांचे के भीतर कट्टरता और नफरत की राजनीति के खिलाफ हमारा संघर्ष जारी रहेगा।

ऐसा क्या लिखा था पोस्ट में

असल में, जफरुल इस्लाम खान ने बीते 28 अप्रैल को अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट लिखी थी। इस पोस्ट में जफरुल इस्लाम खान ने लिखा था कि मुसलमानों पर अत्याचार हो रहे हैं। अगर हिंदुस्तान के मुसलमानों ने इसकी शिकायत अरब देशों से कर दी तो हिंदुस्तान में जलजला आ जायेगा।

इस मुद्दे पर दिल्ली बीजेपी के विधायकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल से मीटिंग की थी और खान को पद से हटाने की मांग की थी।

अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक शिकायत के आधार पर दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान के खिलाफ धारा 124A और 153A के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। उन पर आईपीसी की धारा 124A देशद्रोह और 153 नफरत फैलाने के तहत मामला दर्ज किया गया है।


Next Post

कांक्रीट मिक्सर में छिपकर महाराष्ट्र से लखनऊ जा रहे थे 18 मजदूर, इंदौर में उतारा

Sun May 3 , 2020
नगर संवाददाता | इंदौर देशभर में सख्त लॉक डाउन के बीच मिक्सर मशीन में 18 मजदूरों को महाराष्ट्र से लखनऊ ले जाया जा रहा था जिन्हें पकड़ लिया गया। शनिवार सुबह इंदौर-उज्जैन के पास पंथपिपलई बॉर्डर पर ट्रैफिक के जवानों ने एक मिक्सर मशीन को निकलते देखा। इस पर सूबेदार […]