भारत में मरीजों के स्वस्थ होने की दर अमेरिका से 20 गुना बेहतर

नई दिल्ली

देश में कोरोना वायरस महामारी के फैलने की रफ्तार बढ़ती ही जा रही है। कुछ राज्यों में संक्रमण के आंकड़े लगातार बढ़ जा रहे हैं। इस बीच नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कहना है कि भारत में कोरोना संक्रमितों के ठीक होने की दर अमेरिका से 20 गुना बेहतर है। कांत ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि अमेरिका में जब कोरोना के एक लाख मामले थे, उस वक्त वहां पर केवल 2 फीसदी लोग ही इस संक्रमण से ठीक हुए थे, जबकि अपने देश में लगभग 40 फीसदी लोग इस संक्रमण से पूरी तरह उबर चुके हैं। दुनिया के अन्‍य कई देश भी हैं, जिनके मुकाबले भारत में स्वस्थ होने की दर बेहतर है। भारत में यह दर 40 फीसदी, अमेरिका में 2, रूस में 11, इटली में 14, तुर्की में 18, फ्रांस में 21 और स्पेन में 22 और जर्मनी में 29% है।

कांत ने यह भी लिखा कि मौत के मामले में भी हमारी स्थिति काफी बेहतर है। उन्होंने कहा कि देश में प्रति दस लाख लोगों पर सिर्फ दो लोगों की मौत हो रही है, जबकि अमेरिका में यह संख्या 275 और स्पेन में 591 है। भारत में मृत्यु दर करीब तीन फीसदी है और स्वस्थ होने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। नीति आयोग के सीईओ का यह दावा तब सामने आया है जब मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में रिकवरी दर अभी 38.73 प्रतिशत है और इसमें लगातार सुधार हो रहा है। मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान देश में कोरोना के कुल 2350 मरीज ठीक हुए हैं। ये सभी मरीज अपने-अपने घर लौट चुके हैं। इस प्रकार देश में अब तक इस महामारी से ठीक होने वाले मरीजों की कुल संख्या 39,174 पहुंच चुकी है।

मंत्रालय के मुताबिक भारत में प्रति लाख आबादी पर मौत का आंकड़ा 0.2 है। पूरी दुनिया में प्रति लाख आबादी पर मौत की दर 4.1 है। भारत में अब तक 24,25,742 सैंपल का टेस्ट किया जा चुका है।

24 घंटे में संक्रमण के नए मामले…महाराष्ट्र में 2100 और दिल्ली में 500

महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में 2100 नए मामले सामने आए हैं। राज्य के मुताबिक इसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 37 हजार के पार पहुंच गई है। राज्य में पिछले 24 घंटे में अब तक के सबसे ज्यादा 1202 मरीज डिस्चार्ज भी किए गए हैं। इसके बाद राज्य में ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 9639 हो गई है। वहीं दिल्ली में 24 घंटे में कोरोना के 500 नए केस देखने को मिले हैं। यह अब तक का सबसे बड़ा उछाल बताया जा रहा है। यहां अब तक कोरोना के कुल केसों की संख्या 10,054 हो चुकी है। इसमें से 5401 ऐक्टिव हैं यानी इतने मरीज अभी अस्पतालों में भर्ती है और अपना इलाज करवा रहे हैं। दिल्ली में 168 लोग कोरोना की वजह से जान गंवा चुके हैं। 4485 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं।

Next Post

अदालतों में पहली बार निरस्त हुई एक माह की गर्मी की छुट्टियां

Wed May 20 , 2020
मांगीलाल चौहान | इंदौर जिला कोर्ट में 30 मई तक के सूचीबद्ध प्रकरणों की अब जुलाई में की जाएगी सुनवाई , 58 वें दिन रही अदालतें बन्द, लम्बी खींच गई लम्बित प्रकरणों की तारीखें न्यायिक इतिहास में लॉक डाउन के कारण सभी अदालतों के लिए निरस्त हुई गर्मी की छुट्टियां […]