पीएम के नए विमान पर मिसाइल बेअसर, सितंबर से करेंगे सफर

नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सितंबर से मिसाइल रक्षा कवच से लैस बोइंग-777 विमान से यात्रा करेंगे। इस विमान की सुरक्षा प्रणाली अमेरिकी राष्ट्रपति के विमान के स्तर की है। दो विशेष रूप से उन्नत बोइंग-777 विमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘एयर इंडिया वन’ बेड़े में सितंबर तक शामिल होने की उम्मीद है। बोइंग कंपनी की ओर से ये विमान एयर इंडिया को सौंपे जाएंगे। वरिष्ठ अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि मुख्य तौर पर कोविड-19 के कारण इन दो विमानों की आपूर्ति में कुछ देरी हुई है। लेकिन सितंबर तक दो विमान की आपूर्ति की जा सकती है। इन बी-777 विमानों में अत्याधुनिक मिसाइल रक्षा प्रणाली होंगी जिन्हें लार्ज एयरक्राफ्ट इंफ्रारेड काउंटरमेजर्स (एलएआईआरसीएम) और सेल्फ प्रोटेक्शन सूट्स (एसपीएस) कहा जाता है। इन दो बी-777 विमान का परिचालन एयर इंडिया के नहीं बल्कि भारतीय वायु सेना के पायलट करेंगे। हालांकि, अधिकारियों ने कहा कि नये विशाल विमानों के रखरखाव का जिम्मा एयर इंडिया की सहायक कंपनी एयर इंडिया इंजीनियरिंग लिमिटेड (एआइईएसएल) का होगा।

गौरतलब है कि वर्तमान में प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति एयर इंडिया के बी-747 विमानों से यात्रा करते हैं, जिन पर एयर इंडिया वन-1 का चिह्न होता है। एयर इंडिया के पायलट इन बी-747 विमानों को उड़ाते हैं और एआइईएसएल उनका रखरखाव करता है।

विमान की पहली तस्वीर आई सामने…

एयर इंडिया ने वीवीआईपी यात्रा के लिए नए बोइंग 777-300 ईआर विमान की जोड़ी को नवीनीकृत करने के लिए अमेरिका के डलास स्थित बोइंग सुविधा केंद्र में भेजा था, जहां इनमें मिसाइल रक्षा प्रणाली को लगाया गया है। इसे लगाने का खर्च लगभग 1400 करोड़ रुपये विमान बनकर लगभग तैयार हैं। इनकी पहली तस्वीर सामने आ गई है। इसे फोटोग्राफर एंडी एग्लॉफ ने लिया है। विमान पूरे सफेद रंग का है और इसके पिछले हिस्से पर भारत का झंडा बना हुआ है।

ये है खासियत…

ये विमान ‘सेल्फ प्रोटेक्शन सूट्स’ (एसपीएस) से लैस होंगे, जिसमें इंफ्रारेड और इलेक्ट्रॉनिक जंगी तकनीक शामिल है। इसके अलावा विमान में मिसाइल चेतावनी प्रणाली भी होगी।

विमान दुश्मन की रडार प्रणाली को नाकाम करने में सक्षम तकनीक से भी लैस होगा।
बड़ी खासियत ये है कि ये विमान किसी भी मिसाइल हमले के खतरे का मुकाबला करने में सक्षम होंगे।

Next Post

स्ट्रीट वेंडर्स को काम शुरू करने के लिए बिना ब्याज 10 हजार रुपए का लोन देगी सरकार

Tue Jun 9 , 2020
नगर संवाददाता | इंदौर मुख्यमंत्री का पहला कदम- प्रदेशभर में लागू होगी योजना, रोजगार सेतु से कंपनियों तक पहुंचेंगे हुनरमंद कारीगर, बच्चों का पढ़ाई खर्च सरकार उठाएगी कोरोना और लॉकडाउन के कारण जो छोटे दुकानदार बेरोजगार हो गए हैं उन्हें बिना ब्याज 10 हजार रुपए तक का लोन देकर सरकार […]