सुशांत के मौत के बाद अभिनव कश्यप का ये पोस्ट बॉलीवुड के उन ‘महान’ हस्तियों की सच्चाई बताती है

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से ही डिप्रेशन और नेपोटिज्म पर बहस तेज हो गया है। बॉलीवुड में भाई भतीजावाद के आरोप लगाए जा रहे हैं। अब इन आरोपों के बीच ‘दबंग’ के डायरेक्टर और अनुराग कश्यप के भाई अभिनव कश्यप ने फिल्म इंडस्ट्री पर कई आरोप लगाते हुए पुलिस से अपील की है कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या मामले की तह तक जांच करे।

अभिनव कश्यप ने अपने फेसबुक पेज पर एक लंबा-चौड़ा पोस्ट लिखा है। इसमें उन्होंने दो बातों का दावा किया है। पहला कि सिनेमा इंडस्ट्री में रॉ टैलेंट को कैसे बर्बाद किया जाता है। वहीं, दूसरा- उनके साथ सलमान ख़ान तथा परिवार ने क्या किया?

सलमान तथा परिवारवालों पर लगाया आरोप

उन्होंने सुशांत की आत्महत्या की जांच की मांग की है। इसके अलावा सलमान ख़ान और उनके परिवार के ऊपर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि मैं सुशांत सिंह राजपूत की तरह हार नहीं मानने वाला हूं।

अभिनव कश्यप ने अपनी पोस्ट में यश राज फिल्म्स की एजेन्सी पर आरोप लगाते हुआ लिखा कि शायद इसी एजेंसी ने ही सुशांत सिंह राजपूत को यह कदम उठाने के लिए इन्होंने प्रेरित किया हो। इस मामले की इस एंगल से भी जांच होनी चाहिए। इस तरह की एजेन्सी आर्टिस्ट का करियर बनाती नहीं बल्कि बिगाड़ती हैं। इस तरह की कई चीजों से हम डील करते हैं।

वैसे वास्तव में ऐसी कौन सी वजह हो सकती है जो किसी को आत्महत्या करने पर मजबूर कर दे? मुझे डर है कि उनकी मौत #मीटू आंदोलन की तरह एक बड़े मूवमेंट की शुरुआत न हो जाए।

10 साल पहले ‘दबंग 2’ से बाहर निकलने की वजह यह थी

अभिनव ने लिखा है कि मैंने भी बहुत कुछ झेला है। 10 साल पहले ‘दबंग 2’ की मेकिंग से मेरे बाहर निकलने की वजह यह थी कि अरबाज खान और सोहेल खान अपनी फैमिली से मिलकर मेरे करियर पर कंट्रोल करने की कोशिश कर रहे थे और मुझे काफी डराया-धमकाया गयाय़ अरबाज ने मेरा दूसरा प्रॉजेक्ट भी बिगाड़ दिया जो कि श्री अष्टविनायक फिल्म्स का था, जिसे मैंने उसके हेट मिस्टर राज मेहता के कहने पर साइन किया था।

उन्हें मेरे साथ काम करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई। मैंने श्री अष्टविनायक फिल्म्स को पैसे वापस दे दिए और फिर मैं वायकॉम पिक्चर्स में गया, उन्होंने भी ऐसा ही किया। बस इस बार नुकसान पहुंचाने वाला सोहेल खान थे और उन्होंने वहां के सीईओ विक्रम मल्होत्रा को धमकी दी,मेरा प्रॉजेक्ट खत्म हो चुका था और मैंने साइनिंग फीस 7 करोड़ रुपये 90 लाख इंटरेस्ट के साथ लौटाए। इसके बाद मुझे बचाने के लिए रिलायंस एंटरटेन्मेंट सामने आया हमने साझेदारी में फिल्म ‘बेशरम’ पर काम किया।

आत्मविश्वास तोड़ने के लिए एक्टर्स के साथ होता है खराब व्यवहार

इन टैलेंटेड एक्टर्स को बॉलीवुड पार्टियों में उन्हें मशहूर हस्तियों के साथ पेश करने के बहाने शुरू किया गया है। ध्यान दें कि इन पार्टियों में वे सभी को अनदेखा कर दिया जाता है और बहुत ही खराब व्यवहार किया जाता है ताकि उनका आत्मविश्वास टूट जाए।

उन्होंने आगे बताया कि इसके बाद सलमान तथा उनके परिवारवालों ने मेरी फिल्म बेशरम के रिलीज होने पर तमाम प्रपंच रचे। उन लोगों ने मेरी फिल्म बेशरम के खिलाफ लगातार नकारात्मक स्मियर अभियान चलाया। इसने वितरकों को मेरी फिल्म खरीदने से डरा दिया।

इस सब ने मेरे मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा चोट पहुंचाया

रिलायंस एंटरटेनमेंट और मैं खुद फिल्म रिलीज करने के लिए सक्षम और साहसी थे लेकिन लड़ाई अभी शुरू हुई थी। जब तक मेरी फिल्म का बॉक्स ऑफिस ढह नहीं गया, तब तक मेरे दुश्मन, फिल्म के खिलाफ लगातार नकारात्मक ट्रोलिंग और बैडमूथिंग अभियान चलाते रहे।

अभिनव कश्यप ने आगे लिखा कि  लेकिन मेरी लड़ाई जारी रही। उन्होंने फिल्म की सैटेलाइट रिलीज पर भी लगाया जो कि पहले ही जी टेलीफिल्मस के जयंती लाल को बेचा जा चुका था। हालांकि, रिलायंस के साथ अच्छे संबंध की वजह से सैटेलाइट राइट्स को लेकर नेगोशिएट हुआ, लेकिन काफी कम पैसों में इसके बाद कई सालो तक मेरे कई प्रॉजेक्ट्स अटक गए और मुझे मारने के साथ-साथ मेरे घर की फीमेल मेंबर्स के साथ रेप तक की धमकियां मिलीं।

इस सब ने मेरे और मेरी फैमिली के मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा चोट पहुंचाया मेरा तलाक हो गया, मेरा फैमिली साल 2017 में पूरी तरह से बिखर गई। इसी तरह उन्होंने बॉलीवुड के और भी मुद्दों पर सवाल उठाया है।

Next Post

Not known Factual Statements About Yebo Casino Login

Wed Jun 17 , 2020
All About Yebo Casino Login Live SA Online Casinos Online As a South African casino player, if you are not comfy with playing casino games on-line and also prefer to play the lots of offline or live gambling establishments around SA then you most likely understand this already however there […]