‘मेरे बेटे को इस अस्पताल की लापरवाही ने मारा है’ बोलते हुए पिता घंटो तक बेसुध रोता रहा

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

कोरोना महामारी की चपेट में अभी तक लाखों परिवार आ चुका हैं। इस बीमारी ने लोगों के अंदर इतना ज्यादा डर बैठा दिया है कि लोग अब मानवीयता लगभग भूल चुके हैं।

ऐसा ही एक हृदयविदारक वीडियो कन्नौज से वायरल हो रहा है। इसमें एक पिता जिस प्रकार अपने बेटे से चिपट कर रो रहा है वो वाकई में दिल तोड़ने वाला है।

दिमागी बुखार से बच्चे की मौत बिलखते रहे परिजन

दरअसल कन्नौज के जिला अस्पताल में लापरवाही का बड़ा मामला सामने आया है। दिमागी बुखार से पीड़ित बच्चे को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया था, जहां उसकी मौत हो गई। परिजनों ने बच्चे की मौत के बाद डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

मामले में स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि बच्चे की हालत सीरियस थी, जिसकी वजह से उसकी मौत हुई। किसी प्रकार की कोई लापरवाही नहीं बरती गई है।

काफी देर तक परिजन बच्चे को लेकर भटकते रहे

सदर कोतवाली क्षेत्र के मिश्रीपुर गांव निवासी प्रेमचंद्र के एक वर्षीय पुत्र अनुज को कई दिनों से बुखार था। बुखार के चलते हालत बिगड़ी तो परिजन उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। आरोप है कि, काफी देर तक परिजन बच्चे को लेकर इधर उधर भटकते रहे। हालत खराब देख डा. वीके शुक्ला ने जांच करने के बाद बच्चे को डाक्टर पीएम यादव के पास भेज दिया। लेकिन बच्चे की मौत हो गई।

वहीं बच्चे की मौत से दुखी पिता का कहना है कि उनके बेटे को बुखार और गले में सूजन थी। उन्होंने आरोप लगाया कि अस्पताल के डॉक्टरों ने बच्चे को छूने से मना कर दिया और कानपुर में किसी बड़े अस्पताल में लेकर जाने को कहा। उन्होंने बताया कि कुछ लोगों ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया, जिसके बाद बच्चे को इमरजेंसी रूम में जांच के लिए ले जाया गया।

अब आदित्यनाथ के संज्ञान में यह मामला

वीडियो वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस मामले को संज्ञान में लेने से स्वास्थ्य महकमे और प्रशासन में अफरातफरी का माहौल है। डीएम राकेश कुमार मिश्रा ने एसडीएम सदर को जांच सौंपते हुए दो सदस्यीय टीम बना दी है।

शासन ने स्वास्थ्य महकमे में कई तबादले किए हैं। इनमें जिला अस्पताल के सीएमएस यूसी चतुर्वेदी का नाम भी है। लोग इसके पीछे की वजह बच्चे की मौत से जोड़ कर देख रहे हैं।

Next Post

103 साल के मरीज ने जीती कोविड-19 से जंग

Wed Jul 1 , 2020
ठाणे देश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच 103 साल के सुक्खा सिंह छाबड़ा ने इस महामारी से जंग जीत ली है। वह कोरोना वायरस को मात देकर खुशी-खुशी अपने घर लौट आए हैं। 24 दिनों तक आईसीयू में रह कर कोरोना को हराने वाले सुक्खा सिंह देश के […]