सरकार ने सिख फॉर जस्टिस की 40 वेबसाइट ब्लॉक की

नई दिल्ली

खालिस्तान समर्थक संगठन पर शिकंजा

खालिस्तानी संगठनों से जुड़े नौ लोगों को आतंकवादी घोषित किए जाने के बाद केंद्र सरकार ने रविवार को ऐलान किया कि अलगाववादी गतिविधियों का समर्थन करने को लेकर प्रतिबंधित संगठन ‘सिख्स फॉर जस्टिस’ (एसएफजे) से जुड़ी 40 वेबसाइट ब्लॉक कर दी गई है। अमेरिका स्थित एसएफजे एक खालिस्तान समर्थक समूह है।

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘ग़ैर क़ानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए), 1967 के तहत सिख्स फॉर जस्टिस (एसएफजे) एक गैरकानूनी संगठन है। उसने अपने मंसूबे के लिए समर्थकों का पंजीकरण करने को लेकर एक अभियान शुरू किया था। गृह मंत्रालय की सिफारिश पर इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) ने सूचना प्रौद्योगिकी कानून, 2000 की धारा-69 ए के तहत एसएफजे की 40 वेबसाइट ब्लॉक करने के आदेश जारी किए।’’ मंत्रालय भारत में साइबर स्पेस की निगरानी करने के लिए नोडल प्राधिकार है।

पिछले वर्ष गृह मंत्रालय ने एसएफजे की कथित राष्ट्रविरोधी गतिविधियों को लेकर उसे प्रतिबंधित कर दिया था। एसएफजे ने अपने अलगाववादी एजेंडे के तहत सिख जनमत संग्रह, 2020 पर जोर दिया था। एक अधिकारी ने बताया कि यह संगठन खालिस्तान बनाये जाने का खुले तौर पर समर्थन करता है और ऐसा कर भारत की संप्रभुता एवं क्षेत्रीय अखंडता को चुनौती देता है।

 

Next Post

प्रदेश में संघ के दो बड़े पदाधिकारी भी संक्रमित

Mon Jul 6 , 2020
प्रजातंत्र ब्यूरो | भोपाल ‘समिधा’ पहुंचा कोरोना… भोपाल में रविवार को 74 नए पॉजिटिव निकले, संघ मुख्यालय से जुड़े सभी स्वयंसेवक क्वारेंटाइन प्रदेश की राजधानी में रविवार को 74 नए कोरोना पॉजिटिव निकले। आमतौर पर आइसोलेट रहने वाले संघ के 2 बड़े प्रचारक भी कोरोना की चपेट में आ गए […]