उज्जैन के महाकाल मंदिर में जाकर ये शख्स जोर से बोलने लगा, ‘मैं ही विकास दुबे हूं वही कानपुर वाला’

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

कानपुर के बिकरू में हुए शूटआउट का मुख्य आरोपी विकास दुबे गुरुवार सुबह मध्यप्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया है। कथित तौर पर कहा जा रहा है कि विकास महाकाल के दर्शन के लिए उज्जैन गया था।

उत्तर प्रदेश पुलिस की टीम उसे पिछले छह दिनों से खोज रही थी। ऐसा बताया जा रहा है कि महाकाल मंदिर की सिक्योरिटी टीम ने उसे संदिग्ध जानकर पकड़ लिया था। इसके बाद महाकाल थाना पुलिस को सूचना दी गयी।

मंगलवार को फरीदाबाद के एक होटल में देखा गया था

कानपुर एनकाउंटर के बाद विकास दुबे अपने घर से फरार हो गया था। इसके बाद उसकी आखिरी लोकेशन औरेया दिखाई दी थी। जिसके बाद पुलिस को उसके बीहड़ की ओर भाग जाने का शक हुआ था। लेकिन विकास दुबे तब उत्तर प्रदेश का बॉर्डर पार करके हरियाणा पहुंच चुका था।

आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे को मंगलवार को दिल्ली से सटे हरियाणा के फरीदाबाद में एक होटल में देखा गया था। लेकिन जब पुलिस वहां छापा मारने पहुंची तो वह वहां से निकल चुका था।

कुख्यात अपराधी को पकड़ने में लगी स्पेशल टास्क फोर्स ने कंफर्म किया कि फरीदाबाद में जो शख्स सीसीटीवी में दिख रहा है वो विकास दुबे था। इसके बाद गुरुग्राम में भी हाइअलर्ट जारी कर दिया गया था।

मैं ही विकास दुबे हूं

उज्जैन के जिला कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि विकास दुबे महाकाल का दर्शन करने मंदिर में जा रहा था। उसी समय सुरक्षाकर्मियों ने उसको पहचाना और कंट्रोल रूम को सूचना दी। इसके बाद विकास दुबे वहां पर चिल्ला-चिल्लाकर कहने लगा कि मैं ही विकास दुबे हूं।

इसके बाद पुलिस की टीम ने उसको पकड़ा और कंट्रोल रूम में लेकर गई। कानपुर का कुख्यात गैंगस्टर और आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का आरोपित विकास दुबे उज्जैन में सुबह 7:45 अपने कुछ साथियों के साथ महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए आया था।

इस दौरान वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों को शक हुआ तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी। पुलिसकर्मी उसे चौकी लेकर पहुंचे।‌ बाद में उज्जैन एसपी मनोज सिंह दुबे को गिरफ्तार कर कंट्रोल रूम ले गए।

अपराधी चाहे कितना ही बड़ा हो, हमारी पुलिस किसी को भी छोड़ती नहीं है

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा, “मध्य प्रदेश पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। कानपुर में वारदात के बाद से ही मध्य प्रदेश पुलिस अलर्ट मोड पर थी। मध्य प्रदेश पुलिस को इंटेलिजेंस से कुख्यात अपराधी विकास दुबे के उज्जैन आने की सूचना मिली थी।”

उन्होंने आगे कहा कि इसी आधार पर महाकाल थाना पुलिस ने विकास की गिरफ्तारी की है। अपराधी चाहे कितना ही बड़ा हो, हमारी पुलिस किसी को भी छोड़ती नहीं है।

उज्जैन कैसे पहुंचा यह बड़ा सवाल है

विकास दुबे ने से महाकाल मंदिर की 250 रुपये की पर्ची भी कटाई और जैसे आम लोग दर्शन करते है वेसे ही दर्शन करने लाइन में लगा था। उसे इनकाउंटर का डर भी था यही कारण है कि उससे अपने आप को सरेंडर किया है।

बुधवार को फरीदाबाद और एनसीआर में लोकेशन मिलने के बाद आखिर वह उज्जैन कैसे पहुंचा यह बड़ा सवाल है। हालांकि, अब उज्जैन पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। यूपी पुलिस के पहुंचते ही उसकी ट्रांजिट रिमांड की कार्रवाई की जाएगी। उम्मीद है थोड़ी देर में ही उज्जैन पुलिस इसका खुलासा करेगी कि वह यहां कैसे पहुंचा।

Next Post

शाहिद अफरीदी फाउंडेशन का लोगो अब पाकिस्तानी खिलाड़ियों के किट पर होगा

Thu Jul 9 , 2020
नेहा श्रीवास्तव, इंदौर। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की एक अदद स्पॉन्सर की तलाश नाकाम रही है। खबरों के मुताबिक इंग्लैंड के दौरे पर पाकिस्तान की टीम के पास फिलहाल कोई भी स्पॉन्सर नहीं है। असल में पाकिस्तानी खिलाड़ी जान दांव पर लगाकर कोरोना वायरस के बीच इंग्लैंड दौरे पर गए हैं। लेकिन […]