अपनी शायरी से लाखों दिलों पर राज करने वाले मशहूर शायर राहत इंदौरी साहब नहीं रहे

नेहा श्रीवास्तव, इंदौर।

मशहूर शायर राहत इंदौरी का दिल का दौरा पड़ने से मंगलवार को निधन हो गया। वे कोरोना वायरस से भी संक्रमित थे, जिसके उपचार के लिए उन्हें मध्य प्रदेश के इंदौर में 10 अगस्त की देर रात अरविंदो अस्तपाल में भर्ती कराया गया था।

इसके बाद पूरे प्रदेश में शोक की लहर है। प्रदेश के सभी नेताओं ने शोक व्यक्त किया है। 70 साल के राहत इंदौरी अपनी बेबाक शायरी के लिए दुनियाभर में जाने जाते थे।

प्रशासन की तरफ से फिलहाल कोई व्यवस्था नहीं की गई है

मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन हो गया है। राहत इंदौरी ने आज सुबह ही ट्वीट कर कोरोना संक्रमित होने की जानकारी दी थी। राहत इंदौरी साहब के आखिरी दर्शनों के लिए प्रशासन की तरफ से फिलहाल कोई व्यवस्था नहीं की गई है।

प्रशासन का कहना है कि राज्य में कोरोना फैल रहा है दूसरा राहत इंदौरी साहब खुद भी कोरोना संक्रमित थे इसलिए राहत इंदौरी साहब के सार्वजनिक दर्शन नहीं होंगे। माना जा रहा है कि प्रशासन की देखरेख में राहत इंदौरी साहब का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

आखिरी मैसेज ‘मेरी ख़ैरियत ट्विटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी’

डॉ राहत इंदौरी रविवार को ही एक निजी अस्पताल में भर्ती हुए थे। कोविड रिपोर्ट आने के बाद वह अरबिंदो अस्पताल में शिफ्ट हुए थे।

सुबह उन्होंने ट्वीट कर कहा, “कोविड के शरुआती लक्षण दिखाई देने पर कल मेरा कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आयी है। अरबिंदो हॉस्पिटल में एडमिट हूं, दुआ कीजिए जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं। एक और इल्तेजा है, मुझे या घर के लोगों को फ़ोन ना करें, मेरी ख़ैरियत ट्विटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी।”

वहीं, अरबिंदो अस्पताल के डॉक्टर विनोद भंडारी ने कहा है कि अस्पताल में भर्ती होने के बाद उन्हें 2 बार दिल का दौरा पड़ा था। उसके बाद उनकी स्थिति बिगड़ती गई है। हम लोग उन्हें बचा नहीं सके। उन्हें 60 फीसदी निमोनिया था। डॉक्टरों ने कहा कि उन्हें पहले से निमोनिया था। डॉक्टर्स ने कहा कि उनका 70 प्रतिशत लंग खराब , कोविड पॉजीटिव, हाईपर टेशंन और डायबिटिक की दिक्कत थी।

अपनी शायरी से लाखों दिलों पर राज करने वाले मशहूर शायर नहीं रहे

राहत इंदौरी के निधन से पूरे एमपी में शोक की लहर है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर दुख व्यक्त किया है।

दुःख व्यक्त करते हुए सीएम ने लिखा है, “अपनी शायरी से लाखों-करोड़ों दिलों पर राज करने वाले मशहूर शायर, हरदिल अज़ीज़ श्री राहत इंदौरी का निधन मध्यप्रदेश और देश के लिए अपूरणीय क्षति है। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि उनकी आत्मा को शांति दें और उनके परिजनों और चाहने वालों को इस अपार दुःख को सहने की शक्ति दें।”

सीएम के साथ ही कला जगत से लेकर पूरा जहां इस वक़्त गमगीन है। मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस का असर काफी तेजी से फैल रहा है। इंदौर भी शुरुआत में कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बनकर उभरा था।

बीते दिनों ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कोरोना की चपेट में आए थे, हालांकि अब उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है।

Next Post

आखिरी मुशायरा भी इंदौर में ही पढ़ा

Wed Aug 12 , 2020
प्रजातंत्र डेस्क। चाहने वालों को तो उम्मीद थी अस्पताल से राहत देने वाली खबर आएगी, पर वे रुखसत ही हो गए, आप से ऐसी उम्मीद तो नहीं थी राहत भाई… राहत इंदौरी की जिंदगी में जब आप दाखिल होते हैं तो पहला टापू आता है, उस पर रानीपुरा की तख्ती […]