बाबरी मामले में 27 साल बाद 30 सितंबर को फैसला

लखनऊ।

आडवाणी, उमा सहित 32 लोग हैं आरोपी

अयोध्या का विवादित ढांचा विध्वंस मामले में सीबीआई की विशेष अदालत के न्यायधीश सुरेन्द्र यादव 30 सितंबर को फैसला सुनाएंगे। 06 दिसंबर 1992 को विवादित ढांचा गिराए जाने के मामले में 27 साल बाद अदालत का फैसला आएगा।

सीबीआई ने चार्जशीट में 49 लोगों को आरोपी बनाया था। इनमें 17 लोगों की मौत के बाद अब 32 आरोपी के भविष्य पर अदालत को फैसला सुनाना है। इनमें लालकृष्ण आडवाणी, कल्याण सिंह, मुरली मनोहर जोशी, साध्वी ऋतंभरा, उमा भारती, विनय कटियार, महंत नृत्य गोपाल दास और चम्पत राय जैसे चर्चित नाम शामिल हैं। सभी आरोपियों को 30 सितंबर को अदालत में मौजूद रहने का आदेश दिया गया है। कोर्ट ने सभी आरोपियों को नोटिस भेजा है।

Next Post

पत्नी को बोला कोरोना है,जान दे रहा हूँ,इंदौर में प्रेमिका के साथ मिला।

Fri Sep 18 , 2020
नगर संवाददाता | इंदौर डेढ़ माह से पत्नी मुंबई में तलाश रही थी कोरोना महामारी की त्रासदी के बीच पत्नी से बेवफाई का एक मामला सामने आया है। मुंबई में रहने वाले एक युवक ने वहां पत्नी को फोन कर कहा मैं कोरोना पॉजिटिव हूं और अपनी जान दे रहा […]