आईएसएल-7-सेमी-2, लेग-2 : नॉर्थईस्ट को हराकर एटीकेएमबी चौथी बार फाइनल में

गोवा। एटीके मोहन बागान ने मंगलवार रात फातोर्दा के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए सातवें सीजन के दूसरे सेमीफाइनल के दूसरे लेग में नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी को 2-1 से हरा दिया। इसी के साथ एटीकेएमबी 3-2 के एग्रीगेट स्कोर के साथ चौथी बार हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के फाइनल में पहुंचने में सफल रहा। दोनों टीमों के बीच का लेग-1 मुकाबला 1-1 की बराबरी पर समाप्त हुआ था।

फाइनल में एटीकेएमबी का सामना 13 मार्च को फातोर्दा में ही मुम्बई सिटी एफसी से होगा, जो पहली बार खिताब के लिए प्रयासरत है। मुम्बई ने रेगुलेशन टाइम और एक्स्ट्रा टाइम के गोलरहित निकलने के बाद पेनाल्टी शूटआउट में एफसी गोवा को 6-5 से हराया था। पहले हाफ में एटीकेएमबी पूरी तरह हावी रही। उसने डेविड विलियम्स की मदद से 1-0 की लीड ली और इसके अलावा बॉल पजेशन में भी वह हाईलैंडर्स से काफी आगे रही। 59 फीसदी बॉल पजेशन के साथ एटीकेएमबी ने यह हाफ समाप्त किया।

यही नहीं, इस हाफ में एटीकेएमबी ने लगातार हमले किए और इस कारण उसे तीन कार्नर मिले जबकि हाईलैंडर्स सिर्फ एक कार्नर हासिल सके। एटीकेएमबी ने शुरुआत से ही आक्रामक खेल जारी रखा है। तीसरे मिनट में वह गोल करने के करीब थे लेकिन जेवियर हर्नांदेज का बॉक्स के अंदर से लिया गया शॉट पोस्ट से टकराकर दिशाहीन हो गया। एटीकेएमबी ने 11वें मिनट में एक अच्छा हमला किया था लेकिन हाईलैंडर्स का डिफेंस इस बार सावधान था। इसी तरह 15वें मिनट में रॉय कृष्णा गोल करने के काफी करीब थे लेकिन किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया।

23वें मिनट में हालांकि इदरिसा सिल्ला ने लुइस माचादो के साथ मिलकर नॉर्थईस्ट के लिए अच्छा मौका बनाया लेकिन एटीकेएमबी के गोलकीपर अरिंदम भट्टाचार्य ने उसे नाकाम कर दिया। 30वें मिनट में हाईलैंडर्स के मशहूर शरीफ को पीला कार्ड मिला। 38वें मिनट में विलियम्स ने आखिरकार गोल करते हुए डेडलॉक तोड़ दिया। विलियम्स ने यह गोल रॉय कृष्णा के पास पर किया।

इस हाफ के अंतिम पलों में सुभाशीष बोस ने लगभग गोल लाइन पर लालेंगमाविया के एक हेडर को क्लीयर करते हुए अपनी टीम की लीड को बरकरार रखा। हाईलैंडर्स ने दूसरे हाफ शुरुआत में ही एक बड़ा हमला किया लेकिन सुहैर वादाकापेड्डिका के पोस्ट के करीब से लिए गए शॉट को अरिंदम ने दिशाहीन कर दिया। 57वें मिनट में माचादो के पास गोल करने का मौका था लेकिन उनके शॉट में वह तेजी नहीं थी, जो अरिंदम को छका सके।

62वें मिनट में आशुतोष मेहता ने गोललाइन क्लीयरेंस करते हुए हाईलैंडर्स को मैच में बनाए रखा। 66वें मिनट में भी हाईलैंडर्स की किस्मत ने उसका साथ दिया जब काफी करीब आकर भी एटीकेएमबी के खिलाड़ी गोल नहीं कर सके। इसकी भरपाई हालांकि मानवीर ने 68वें मिनट में कर दी और एक शानदार गोल के साथ अपनी टीम को 2-0 की लीड दिला दी।

मैच हालांकि यहां खत्म नहीं हुआ था लेकिन 74वें मिनट में सुहैर ने एक शानदार गोल करते हुए हाईलैंडर्स की वापसी करा दी। किस्मत ने हाईलैंडर्स का साथ दिया। सुभाशीष द्वारा 81वें मिनट में पेनाल्टी एरिया में फाउल करने पर हाईलंैंडर्स को पेनाल्टी मिला लेकिन उसका दुर्भाग्य था कि माचादो गेंद को बाहर मार बैठे। हाईलैंडर्स को 86वें मिनट में भी बराबरी का एक बेहतरीन मौका मिला लेकिन बॉक्स के अंदर सुहैर से मिले पास पर आशुतोष गेंद को पोस्ट के ऊपर से मार बैठे। और इसके साथ उनकी टीम के पहले ही बार फाइनल में पहुंचने की उम्मीदें भी समाप्त हो गईं।

Next Post

रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज : श्रीलंका के खिलाफ बांग्लादेश की नजरें जीत पर

Wed Mar 10 , 2021
रायपुर। श्रीलंका लेजेंडस यहां रायपुर के शहीद वीर नारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में बुधवार शाम को होने वाले रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज टी20 के अपने पांचवें मैच में बांग्लादेश लेजेंडस के खिलाफ भी अपना शानदार फॉर्म जारी रखना चाहेगा। अनुभवी कप्तान तिलकरत्ने दिलशान की अगुवाई में श्रीलंका लेजेंडस टूर्नामेंट […]