अब कोविशील्ड की तरह कोवैक्सीन का भी हो सकेगा इस्तेमाल

नई दिल्ली । ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इंडिया(डीसीजीआई) ने भारत बायोटेक की स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन के तीसरे चरण के सफल परीक्षण के बाद आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दे दी है। ड्रग कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया द्वारा गठित विशेषज्ञों की एक स्वतंत्र पैनल की विषय विशेषज्ञ समिति ने भारत बायोटेक के कोवैक्सीन के इस्तेमाल की आपातकालीन उपयोग को मंजूरी दे दी। अब कोविशील्ड की तरह कोवैक्सीन का भी आपातकाल उपयोग किया जा सकेगा।

गुरुवार को केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा आयोजित प्रेस वार्ता में स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि कोवीशील्ड की तरह अब स्वदेशी कोवैक्सीन ने भी तीसरे चरण के ट्रायल को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। कोवैक्सीन के परीक्षण के अंतिम चरण के अंतरिम डेटा स्वीकार किए गए हैं। देश के लिए यह हर्ष का विषय है कि स्वदेशी वैक्सीन भी अब कोविशील्ड व अन्य वैक्सीन के श्रेणी में आ गया है। अबतक देश में कोवैक्सीन के 19 लाख डोज दिए जा चुके हैं।

उल्लेखनीय है कि देश में मौजूदा समय में जनवरी के महीने से सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी गई थी। कोवैक्सीन के आपात इस्तेमाल पर विपक्ष द्वारा प्रश्न भी उठाए जा रहे थे कि तीसरे चरण के ट्रायल के बिना ही कैसे कोवैक्सीन का इस्तेमाल किया जा रहा है। जिसके बाद तीसरे चरण के ट्रायल के नतीजे घोषित किए गए जिसमें स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन 81 प्रतिशत तक कोरोना को रोकने में असरदार पाई गई है। अब इसके रेगुलर इस्तेमाल के लिए इसे मंजूरी दे दी गई है।

Next Post

महाशिवरात्रि पर निकली शिव बारात, भूत प्रेत पिशाच बने बाराती, झांकियों ने मन मोहा

Thu Mar 11 , 2021
महाशिवरात्रि पर निकली शिव बारात, भूत प्रेत पिशाच बने बाराती, झांकियों ने मन मोहा वाराणसी। महाशिवरात्रि पर्व पर गुरूवार को आस्था से लबरेज ​अद्भुत और अड़भंगी शिवबारात में शामिल होने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। अपने आराध्य बाबा विश्वनाथ और आदिशक्ति के विवाहोत्सव की घड़ी का साक्षी […]