असम : कोकराझार में पुनः भारी मात्रा में हथियार बरामद

कोकराझार (असम) । पुलिस टीम ने कोकराझार जिला के बिसमुरी थानांतर्गत वन क्षेत्र के 02 और 03 नंबर डिगलीपारा से स्वचालित हथियार व गोला-बारूद बरामद किया है।

असम विधानसभा का 27 मार्च, 01 अप्रैल और 06 अप्रैल को चुनाव होने जा रहा है। चुनावों के मद्देनजर पुलिस प्रशासन राज्य के अन्य हिस्सों के साथ बीटीसी के चारों जिले कोकराझार, उदालगुरी, बाक्सा व चिरांग जिलों में अवैध हथियारों के विरुद्ध अभियान चला रहा है।

असम पुलिस के विशेष एडीजीपी और बीटीएडी आईजीपी एलआर बिश्नोई ने रविवार को बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर कोकराझार जिला के बिसमुरी थाने के अंतर्गत वन क्षेत्र के 02 और 03 नंबर डिगलीपारा में जमीन के नीचे छुपाकर रखे गये भारी मात्रा में हथियार बरामद किये गए हैं।

उन्होंने बताया है कि गुप्त सूचना के आधार पर बीती रात्रि को कोकराझार जिला पुलिस उप अधीक्षक मुकुट राभा के नेतृत्व में पुलिस टीम ने जमीन के नीचे छिपाकर रखे गये 02 एके-56 राइफल, 02 एके सिरीज राइफल की मैगजीन, एके सिरीज राइफल के 29 जिंदा कारतूस और एक रिवाल्वर बरामद किया। इस संबंध में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

फिलहाल यह पता नहीं चला है कि हथियार किस उग्रवादी गुट है। माना जा रहा है कि आत्मसमर्पण करने वाले बोड़ो उग्रवादियों ने इन हथियारों को छुपाकर रखा था। बीटीसी में लगातार हथियारों की बरामदगी से यह साबित हो जाता है कि बड़े पैमाने पर इलाके में अभी भी हथियारों को छुपाकर रखा गया है।

ज्ञात हो कि बोड़ोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल (बीटीसी) के चुनाव के पूर्व से ही पुलिस प्रशासन बीटीसी के चारों जिला कोकराझार, उदालगुरी, बाक्सा व चिरांग जिलों में अवैध हथियारों के विरुद्ध अभियान आरंभ शुरू किया जो अभी भी जारी है।

Next Post

व्हीलचेयर के सहारे पदयात्रा पर निकलीं ममता

Sun Mar 14 , 2021
कोलकाता । गत 10 मार्च को नंदीग्राम में नामांकन के बाद चोटिल हुईं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी घटना के दो दिन बाद ही एक बार फिर सड़कों पर उतर आई हैं। रविवार को वह व्हीलचेयर पर बैठकर पदयात्रा पर निकलीं। कोलकाता के मेयो रोड स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास […]