आज ही के दिन भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में दर्ज की थी ऐतिहासिक जीत

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट इतिहास में आज का दिन काफी यादगार है। 20 साल पहले आज ही के दिन 15 मार्च 2001 को सौरव गांगुली के नेतृत्व वाली भारतीय टीम ने कोलकाता के ईडन गार्डन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। उस टेस्ट मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 171 रन से हराया था।

इस जीत के साथ ही भारतीय टीम फॉलोऑन के बाद जीत हासिल करने वाली तीसरी टीम बनी थी। इस मुकाबले में स्टीव वॉ के शानदार शतक की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 445 बनाए थे। वहीं भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह ने ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में 7 विकेट झटके थे। जिसमें हैट्रिक भी शामिल थी। इसी के साथ हरभजन टेस्ट मैच में हैट्रिक लेने वाले भारत के पहले गेंदबाज थे।

वहीं, भारतीय टीम अपनी पहली पारी में 171 रन पर ही ऑल आउट हो गई थी। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने भारत को फॉलोऑन दिया था। सौरव गांगुली की अगुवाई वाली टीम ने दूसरी पारी में 115 रन पर ही 3 विकेट खो दिए थे। पारी के 67वें ओवर में गांगुली भी आउट हो गए तब टीम का स्कोर चार विकेट पर 232 रन था।

गांगुली के आउट होने के बाद राहुल द्रविड़ क्रीज पर वीवीएस लक्ष्मण का साथ देने आए। अगले 104 ओवर ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए एक बुरे सपने की तरह रहे। द्रविड़-लक्ष्मण की जोड़ी ने 376 रनों की साझेदारी की और भारतीय टीम को मैच में वापसी कराई। द्रविड़ ने 180 रन बनाए, जबकि लक्ष्मण ने 281 रन बनाए, जो टेस्ट क्रिकेट में उनका सर्वोच्च स्कोर था।

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 384 रनों का लक्ष्य दिया। हालांकि, मेहमान टीम 212 रन पर ऑल आउट हो गई और भारत ने 171 रन से मैच जीता। हरभजन ने ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में भी 6 विकेट झटके थे। वहीं भारती की इस जीत ने ऑस्ट्रेलिया के लगातार 16 टेस्ट जीत के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया था।

Next Post

कोहली के साथ बल्लेबाजी करते हुए बहुत कुछ सीखा : ईशान किशन

Mon Mar 15 , 2021
नई दिल्ली। भारतीय सलामी बल्लेबाज ईशान किशन, जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ रविवार को अपने पदार्पण टी -20 मैच में 56 रनों की शानदार पारी खेली, ने कहा कि उन्होंने कप्तान विराट कोहली के साथ बल्लेबाजी करते हुए बहुत कुछ सीखा। 165 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम […]