विनायकी चतुर्थी का व्रत आज, करें ये उपाय, सब परेंशानी होगी दूर

फाल्गुन मास की विनायक चतुर्थी आज यानि 17 मार्च को मनाई जा रही है । आज का दिन बुधवार है और बुधवार का दिन भगवान श्री गणेश को ही समर्पित होता है. ऐसे में उस दिन विनायक चतुर्थी का होना अतिउत्तम है. इस दिन विधि विधान से विघ्‍नहर्ता श्री गणेश की पूजा करने से फल सौ गुना हो जाएगा. विनायक चतुर्थी के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नानादि से निवृत्त हो जाएं। फिर मंदिर में धूप-दीप प्रज्जवलित करें। इसके बाद बप्पा को गंगाजल से स्नान कराएं। फिर गणेशजी को साफ वस्त्र पहनाएं। इसके बाद सिंदूर से गणेशजी का तिलक करें। फिर उन्हें दुर्वा अर्पित करें। फिर गणेश जी को लड्डू या मोदक का भोग लगाएं। इसके बाद गणेश चालीसा पढ़कर आरती कर लें।

घर के कलेश खत्म करने के लिए विनायक चतुर्थी के दिन भगवान गणेश को गेंदे के फूल चढ़ाना शुभ होता है।

गणपति को मोदक बेहद पसंद है, ये तो आप जानते ही हैं। अगर आप बुधवार के दिन शि‍व पुत्र को मोदक का भोग लगाएं तो बुध ग्रह के दोष दूर हो सकते हैं ।

बुधवार के दिन गणपति को सिंदुर चढ़ाएं। इससे सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी।

विनायकी चतुर्थी व्रत के दिन स्नान कर मंदिर में गणेश जी को दूर्वा चढ़ाएं । दूर्वा की 11 या 21 गांठ चढ़ाने से फल जल्दी मिलता है ।

विनायकी चतुर्थी व्रत मेहनत का पूर्ण फल प्राप्त करने और बाधाएं दूर करने के हेतु गणेश रुद्राक्ष धारण करें।

गणेश जी को मूंग के लड्डुओं का भोग चढ़ाना शुभ होगा ।

नोट- उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है । इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी ।

Next Post

भाजपा ने की असम, केरल और तमिलनाडु चुनाव के लिए उम्मीदवारों की घोषणा

Wed Mar 17 , 2021
नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने असम, केरल और तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के लिए तीसरे चरण के उम्मीदवारों की सूची जारी की है। इस सूची में असम की एक, केरल की चार और तमिलनाडु की तीन सीटों के लिए उम्मीदवार घोषित किए गए हैं। भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति […]