19 मार्च को है स्‍कंद षष्‍ठी का व्रत, जानें पूजा विधि व शुभ मूहूर्त

 फाल्गुन माह में 19 मार्च को स्कंद षष्ठी का व्रत रखा जाएगा आपको बता दें कि स्‍कंदषष्‍टी का व्रत भगवान कार्तिकेय को समर्पित है । खासतौर से दक्षिण भारत में इस तिथि को मनाया जाता है। भक्त स्कंद षष्ठी के दिन भगवान स्कंद को प्रसन्न करने के लिए व्रत करते हैं। भगवान स्कंद, शिवजी के बड़े पुत्र कार्तिकेय को कहा जाता है। कहा जाता है कि स्‍कंदषष्‍टी का व्रत जो भी संपूर्ण विधि विधान से करता है भगवान कार्तिकेय उस पर अपनी कृपा दृष्टि करते हैं साथ ही उसके जीवन में से सभी परेंशानी दूर कर देतें हैं । कहा जाता है कि यह व्रत रखने से संतान के कष्ट भी कम हो जाते हैं। मान्यता के अनुसार, यह भी कहा जाता है कि स्कंद षष्ठी के दिन भगवान कार्तिकेय ने तारकासुर नामक राक्षस का वध किया था।

दक्षिण भारत में भगवान कार्तिकेय को सुब्रह्मण्यम कहा जाता है। इस दिन तमिलनाडू के मुरुगा के मंदिरों में भव्य उत्सव होता है। भगवान कार्तिकेय का प्रिय फूल चंपा है ऐसे में इस व्रत को चंपा षष्ठी के नाम से भी जाना जाता है। तो आइए जानते हैं इस दिन कैसे करें पूजा।

स्कंद षष्ठी का शुभ मुहूर्त:

फाल्गुन माह, शुक्ल पक्ष, षष्ठी तिथि

षष्ठी तिथि प्रारम्भ- 19 मार्च, शुक्रवार सुबह 2 बजकर 9 मिनट पर

षष्ठी तिथि समाप्त- 20 मार्च, शनिवार सुबह 4 बजकर 48 मिनट पर

स्कंद षष्ठी व्रत विधि:
स्कंद षष्ठी व्रत के दिन सुबह जल्दी उठ जाना चाहिए। इसके बाद घर की सफाई करें और सभी नित्यकर्मों से निवृत्त होकर स्नानादि कर लें।

फिर साफ वस्त्र धारण करें और सबसे पहले ध्यान कर व्रत का संकल्प लें।

फिर पूजा स्थल पर मां गौरी और शिव जी के साथ भगवान कार्तिकेय की प्रतिमा या मूर्ति को स्थापित करें।

फिर उन्हें पूजा जल, मौसमी फल, फूल, मेवा, कलावा, दीपक, अक्षत, हल्दी, चंदन, दूध, गाय का घी, इत्र आदि अर्पित करें और पूजा करें।

आखिरी में भगवान कार्तिकेय की आरती करना न भूलें।

शाम के समय कीर्तन-भजन और पूजा करें। फिर आरती करें। इसके बाद फलाहार करें।

नोट- उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है । इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी ।

Next Post

कोरोना वैक्सीनेशन से जुड़े सभी मामले सुप्रीम कोर्ट में होंगे ट्रांसफर

Thu Mar 18 , 2021
नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में लंबित मामले को सुप्रीम कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट अब इस मामले की सुनवाई करेगा। कोर्ट ने वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों को इजाजत दी कि वह दूसरे हाईकोर्ट में लंबित मामलों को सुप्रीम कोर्ट […]