बोसफोरस मुक्केबाजी टूर्नामेंट : गौरव सोलंकी और निखत जरीन ने जीता कांस्य

इस्तांबुल। भारतीय मुक्केबाज गौरव सोलंकी (57 किग्रा) और निखत जरीन (51 किग्रा) ने बोसफोरस मुक्केबाजी टूर्नामेंट में शनिवार को कांस्य पदक हासिल किया। दोनों मुक्केबाजों को सेमीफाइनल मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा। इसी के साथ अब टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती भी समाप्त हो गई।

दो बार की विश्व चैंपियन नजीम कजाइबे को मात देकर सेमीफाइनल में पहुंची निखत जरीन को 2019 विश्व चैंपियन सिल्वर मेडलिस्ट बुसेन्ज कार्किगोलु ने 5-0 से हराया। निखत ने इससे पहले प्री क्वार्टर फाइनल में रूस की 2019 की विश्व चैंपियन पेल्टसेवा इकटेरिना को हराया था।

 2018 राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता गौरव सोलंकी को सेमीफाइनल में अर्जेंटीना के निर्को क्यूएलो ने 5-0 से धूल चटाई। गौरव ने पुरुषों के 57 किग्रा में स्थानीय मुक्केबाज अयकोल मिजान को 4-1 से पराजित कर सेमीफाइनल में जगह बनाई थी।

Next Post

गुम होती कठपुतली कला

Sat Mar 20 , 2021
– रमेश सर्राफ धमोरा एक समय था जब कठपुतली को सिर्फ मनोरंजन का माध्यम समझा जाता था लेकिन आज कठपुतली कला, मनोरंजन के साथ ही लोगों को जागरुक भी कर रही है। प्राचीनकाल से ही जादूृृ-टोनों एवं कुदरती प्रकोपों से बचने के लिए मानव जीवन में पुतलों का प्रयोग होता […]